SA v IND: There were no centuries and big partnership, says Dhawan-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 20, 2022 9:53 am
Location
Advertisement

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बड़ी साझेदारी नहीं होने से भारतीय टीम मैच हारी : धवन

khaskhabar.com : गुरुवार, 20 जनवरी 2022 3:57 PM (IST)
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बड़ी साझेदारी नहीं होने से भारतीय टीम मैच हारी : धवन
पार्ल। भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को लगा कि बुधवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पारी में बड़ी साझेदारी नहीं होने से भारतीय टीम मैच हार गई। दोनों टीमों के बीच पहला वनडे बोलैंड पार्क में खेला गया था, जहां भारतीय टीम 31 रन से मैच हार गई थी। चार विकेट खोकर दक्षिण अफ्रीका टीम ने 296 रन बनाए थे। रैसी वैनडेर डूसन (नाबाद 129) और कप्तान टेम्बा बावुमा (110) के दोहरे शतक से टीम को एक मजबूती मिली, जिसमें भारतीय टीम लक्ष्य को हासिल करने में नाकामयाब रहे।

टीम के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल मात्र 12 रन बनाकर आउट हो गए। वहीं, दूसरे नंबर के बल्लेबाज धवन ने 79 और पूर्व कप्तान विराट कोहली ने 51 रन बनाए, जिसमें अंदेशा लगाया जा रहा था कि दोनों बल्लेबाज बड़ी साझेदारी निभाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। दोनों बल्लेबाज अपना अर्धशतक लगाने के बाद आउट हो गए। वहीं, शार्दुल ठाकुर ने भी नाबाद अर्धशतकीय पारी खेलते हुए पचास रन बनाए।

धवन ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, "मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका के दोनों बल्लेबाजों ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की। वहीं, इस विकेट पर जब कोई सेट बल्लेबाज आउट हो जाता है तो नए बल्लेबाज के लिए क्रीज पर जल्दी से रन बनाना आसान नहीं होता। यह बल्लेबाजी के लिए सही विकेट नहीं है, गेंदबाजों को इसमें फायदा मिलता है, लेकिन मुझे लगता है कि टीम ने काफी अच्छे से बल्लेबाजी की लेकिन किसी बल्लेबाज ने शतक नहीं लगाया और न ही कोई बड़ी साझेदारी निभा सका।"

भारत की बल्लेबाजी में क्या कमी थी, इस बारे में आगे बात करते हुए धवन ने विकेटों के गिरने का जिक्र किया।

उन्होंने कहा, "हमारी शुरुआत अच्छी रही और मुझे लगता है कि यहां विकेट धीमा था, यह थोड़ा टर्न भी दे रहा था। इसलिए, जब आप 300 रनों का पीछा कर रहे होते हैं, तो मध्यक्रम बल्लेबाज के लिए शॉट्स खेलना आसान नहीं होता है और बल्लेबाज आते ही गेंद को मारना शुरू कर देता है। हमारे विकेट जल्दी गिरे, जिसका टीम में बहुत प्रभाव पड़ा।"

2023 पुरुष क्रिकेट विश्व कप के लिए सिर्फ एक साल और 10 महीने बचे हैं, धवन ने महसूस किया कि मैच में विभिन्न स्थितियों के साथ टीम का मध्यक्रम मजबूत हो जाएगा। उन्होंने कहा, हम युवा बल्लेबाजों को हालात के मुताबिक खेलने के लिए कहते हैं। हम उन्हें साझेदारी निभाने के लिए बोलते हैं, लेकिन समय के साथ उन्हें अनुभव मिलता जाएगा और अपने मजबूती के साथ प्रदर्शन करेंगे। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement