Jairam, the quarantine badminton player in Germany, will help the mascot Sai-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 29, 2020 10:01 pm
Location
Advertisement

जर्मनी में क्वारंटीन बैडमिंटन खिलाड़ी जयराम, शुभंकर की मदद करेगी साई

khaskhabar.com : शुक्रवार, 30 अक्टूबर 2020 1:17 PM (IST)
जर्मनी में क्वारंटीन बैडमिंटन खिलाड़ी जयराम, शुभंकर की मदद करेगी साई
नई दिल्ली| भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) ने गुरुवार को कहा है कि वह जर्मनी में बैडमिंटन खिलाड़ी अजय जयराम और शुभंकर डे के क्वारंटीन पीरियड का खर्चा वहन करेगी। यह दोनों खिलाड़ी भारतीय टीम के सदस्य के कोविड-19 पॉजिटिव आने के कारण सारलोरल्कस ओपन से बाहर हो गए हैं। साई ने गुरुवार को एक बयान जारी कर रहा है कि 30 अक्टूबर से 10 नवंबर के बीच इन दोनों खिलाड़ियों के क्वारंटीन पीरियड को जो भी खर्च आएगा वो वहन करेगी।

साई ने कहा, "साई उनके होटल और खाने के खर्चे के लिए 1.46 लाख रुपये देगी जिसमें से 90 प्रतिशत रकम तुरंत मुहैया कराई जाएगी।"

जयराम, शुभांकर और लक्ष्य सेन ने इस टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया था जिसकी वजह लक्ष्य के कोच डीके सेन का कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आना है।

विश्व बैडमिंटन महासंघ (बीडब्ल्यूएफ) ने गुरुवार को कहा था कि जयराम और शुभांकर टूर्नामेंट में आगे हिस्सा नहीं लेंगे।

जयराम एक मैच खेल चुके थे और दूसरे राउंड में उनका सामना मैक्स काल्जोउव से होना था। शुभंकर और लक्ष्य को पहले राउंड में बाई मिली थी।

लक्ष्य का खर्च भी साई उठाएगी,, क्योंकि वह टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम का हिस्सा हैं। इन तीनों खिलाड़ियों के टेस्ट हालांकि निगेटिव आए थे।

जयराम ने मदद की अपील की थी और कहा कि उन्हें आयोजकों ने आगे की जानकारी नहीं दी है।

शुभंकर ने भी ट्वीट करते हुए लिखा था, "अधिकारियों से अपील है कि हमारी मदद करें और हमें भारत वापसी जाने की मंजूरी भी दिलवाएं।"

शुभंकर ने बाद में आयोजकों से आए एक मेल का स्क्रीनशॉट शेयर किया था जिसमें लिखा था कि कोच सेन छह नवंबर तक क्वारंटीन रहेंगे जबकि बाकियों को 10 नवंबर तक क्वारंटीन रहना होगा।

उनहोंने लिखा था, "क्या!!! जो इंसान पॉजिटिव आया है वो छह नवंबर तक क्वारंटीन? हमारी रिपोर्ट निगेटिव आई है और हम 10 नवंबर तक क्वारंटीन। यह सही नहीं हो सकता। एक और टेस्ट लीजिए और हमें जाने दीजिए। कृपया कुछ कीजिए।"

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement