IPL-12 : Mumbai Indians eying on fourth title in Rohit Sharma leadership-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 19, 2019 9:19 pm
Location
Advertisement

IPL-12 : रोहित की कप्तानी में चौथे खिताब के लिए जोर लगाएगी मुंबई

khaskhabar.com : सोमवार, 11 मार्च 2019 5:44 PM (IST)
IPL-12 : रोहित की कप्तानी में चौथे खिताब के लिए जोर लगाएगी मुंबई
नई दिल्ली। तीन बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का खिताब जीतने वाली मुंबई इंडियस लीग के इतिहास की दूसरी सबसे सफल टीम मानी जाती है। इस टीम की खासियत है कि यह खराब शुरुआत के बाद भी वापसी करने में सक्षम है, ऐसा यह टीम बीते सीजनों में कर चुकी है। एक और बात जो मुंबई टीम को खतरनाक बनाती है वो ये है कि इसने चार बार फाइनल में कदम रखा और तीन बार खिताब अपने नाम किया।

23 मार्च से आईपीएल के 12वें संस्करण में एक बार फिर यह टीम अपने खिताबी सफर को दोहराने की कोशिश करेगी। इसके तीन खिताबों में एक समान बात यह रही है कि मुंबई ने एक साल के अंतराल पर खिताब जीते हैं। मुंबई ने पहला खिताब 2013, दूसरा खिताब 2015 और तीसरा खिताब 2017 में जीता था। टीम ने तीसरा खिताब राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स को हराकर जीता था, लेकिन बीते साल वह अपने खिताब की रक्षा नहीं कर पाई थी।

जिस पैटर्न में टीम ने तीन खिताब जीते हैं, वह टीम को इस साल भी खिताब अपने नाम करने के लिए प्रेरित कर सकता है। टीम की ताकत उसके संतुलन में रही है। बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने मुंबई के लिए उपयोगी योगदान दिए हैं। इस साल मुंबई ने अपने अधिकतर खिलाडिय़ों को रिटने किया और नीलामी में ज्यादा खर्च नहीं किया। हां, कुछ ऐसी खरीदारी जरूर की जिसने कुछ लोगों को हैरान किया। बीते साल टीम के साथ मेंटॉर के तौर पर काम करने वाले श्रीलंका के लसिथ मलिंगा को टीम ने इस बार दो करोड़ रुपए में गेंदबाज के तौर पर शामिल किया है।

टीम के पास जसप्रीत बुमराह जैसा गेंदबाज है जो खेल के हर प्रारूप में बेहद सफल रहा है। आईपीएल में बुमराह का बोलबाला है, लेकिन इसी साल विश्व कप होना है और बीसीसीआई की वर्कलोड मैनेजमेंट प्रक्रिया के तहत हो सकता है कि बुमराह को कुछ मैचों के लिए आराम दिया जाए। ऐसे में मलिंगा मुंबई के लिए असरदार साबित हो सकते हैं। तेज गेंदबाजी को मजबूत करने के लिए मुंबई ने बाएं हाथ के बरिंदर सिंह सरण को भी टीम में शामिल किया है।

इनके अलावा मुंबई के पास मिशेल मैक्लेघन, एडम मिल्ने, जेसन बेहरनडोर्फ, रासिख सलाम के भी विकल्प हैं। एक और हैरान करने वाली खरीदारी मुंबई ने युवराज सिंह को टीम में शामिल कर की। युवराज बीते साल किंग्स इलेवन पंजाब से खेले थे, लेकिन प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं कर पाए थे। घरेलू क्रिकेट में भी युवराज का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। ऐसे में मुंबई का युवराज को लाना रिस्क के तौर पर ही देखा जा सकता है। यह जरूर है कि अगर युवराज चल गए, तो वह क्या कर सकते हैं यह सभी जानते हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement