Ignorance of I league clubs not in interest of ISL : Baichung Bhutia-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 28, 2020 3:09 am
Location
Advertisement

आई-लीग क्लबों को नजरअंदाज करना ISL के हित में नहीं : भूटिया

khaskhabar.com : गुरुवार, 07 मार्च 2019 7:00 PM (IST)
आई-लीग क्लबों को नजरअंदाज करना ISL के हित में नहीं : भूटिया
कोलकाता। भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया ने कहा है कि अगर आई-लीग क्लब को नजरअंदाज किया जाता है तो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) का भविष्य अधर में पड़ सकता है। उन्होंने साथ ही यह भी सलाह दी कि अगर आईएसएल को अधिक से अधिक दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित करना है तो इसका अधिक प्रचार-प्रसार करने की जरूरत है। भूटिया ने आईएएनएस से एक साक्षात्कार में कहा कि ईस्ट बंगाल और मोहन बागान जैसे क्लब का यहां होना, आईएसएल के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है।

इनके न होने से आईएसएल के भविष्य पर भी एक बड़ा सवालिया निशान है। ईस्ट बंगाल और मोहन बागान सहित आठ आई-लीग क्लब ने हाल ही में अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल को पत्र लिखकर लीग के भविष्य के बारे में जवाब मांगने के लिए अनुरोध किया था। पत्र में कहा गया है कि आई-लीग की टीमें भी आईएसएल में भारतीय फुटबॉल में दूसरे डिवीजन के लिए संभावित प्रतिनिधिमंडल पर चर्चा करने की इच्छा रखती हैं।

ईस्ट बंगाल और मोहन बागान के लिए खेल चुके भूटिया ने कहा कि मुझे लगता है कि जब तक आपके पास ईस्ट बंगाल और मोहन बागान तथा कुछ अन्य टीमों के प्रशंसक नहीं होंगे, तब तक वास्तव में उत्साह नहीं होगा। इसलिए आई-लीग क्लब के आने से आईएसएल को भी फायदा होता है क्योंकि आई-लीग क्लब के पास अपना इतिहास, जुनून और प्रशंसक है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement