Asian Games : PV Sindhu and Saina Nehwal reaction before departure for jakarta-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 20, 2018 2:13 am
Location
Advertisement

एशियन गेम्स : सिंधु ने बताया इनसे मिलेगी चुनौती, सायना ने कहा...

khaskhabar.com : मंगलवार, 14 अगस्त 2018 1:13 PM (IST)
एशियन गेम्स : सिंधु ने बताया इनसे मिलेगी चुनौती, सायना ने कहा...
हैदराबाद। भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) और प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के ऑफिशियल लाइसेंस होल्डर स्पोर्टजलाइव ने मंगलवार को जकार्ता रवाना हो रहे 20 सदस्यीय भारतीय बैडमिंटन दल को शानदार विदाई दी। बीएआई और स्पोर्टजलाइव ने सोमवार को यहां राष्ट्रमंडल खेलों में शानदार प्रदर्शन के बाद अतिरिक्त जिम्मेदारी के साथ एशियाई खेलों में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय खिलाडिय़ों को शुभकामनाएं दीं।

विदाई समारोह में खिलाडिय़ों के अलावा टीम अधिकारी, तेलंगाना बैडमिंटन संघ प्रतिनिधि जयेश रंजन (आईएएस) के साथ-साथ शहर के अन्य गणमान्य लोगों ने शिरकत की। युवा जोश और अनुभवी खिलाडिय़ों के मिश्रण वाली भारतीय टीम जकार्ता में पदकों की दौड़ में शामिल होगी और इस प्रतिस्पर्धा की अगुवाई वल्र्ड नम्बर-8 किदाम्बी श्रीकांत, वल्र्ड नम्बर-13 एचएस प्रणॉय, वल्र्ड नम्बर-3 पीवी सिंधु तथा भारत की पहली ओलम्पिक पदक विजेता सायना नेहवाल करेंगी।

इन सबका साथ राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीतने वाले चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रेंकीरेड्डी की जोड़ी भी देगी। इसी तरह राष्ट्रमंडल खेलों में महिला युगल का स्वर्ण जीतने वाली एन. सिक्की रेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी से भी काफी उम्मीदें होंगी। दो साल बाद होने वाले टोक्यो ओलम्पिक पर निगाह लगाए रहते हुए बीएआई ने भारतीय दल में छह नए चेहरों को शामिल किया है। बीएआई का प्रयास नए चेहरों को आगे लाना और उन्हें स्टार के रूप में उभारने का है।

बीएआई अध्यक्ष और पीबीएल चेयरमैन हिमंता विस्वा सरमा ने कहा, हमारे पास अनुभव और युवाओं का संतुलन है और मुझे पूरा भरोसा है कि हमारे खिलाड़ी एशियाई खेलों में चमकदार खेल के माध्यम से इतिहास के फिर से लिखने का प्रयास करेंगे। इस अवसर पर राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा, हमारे पास सही अग्निशक्ति है और हमारे खिलाड़ी देश की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए तैयार हैं।

खिलाडिय़ों ने कड़ी मेहनत की है और उनकी तैयारी एशियाई खेलों में एक आत्मविश्वासपूर्ण शो के रूप में दिखेगी। रिकॉर्ड के लिए, 1962 में पहली बार बैडमिंटन को एशियाई खेलों में शामिल किए जाने के बाद से भारत ने इंचियोन एशियाई खेलों में महिला टीम स्पर्धा में कांस्य जीता था। इससे पहले एक व्यक्तिगत पदक ने 1982 के एशियाई खेलों में सैयद मोदी के कांस्य पद के रूप में दिलाया था।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement