Uttar Pradesh becomes hub of Dalit-backward oppression violence: Ajay Kumar-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 9, 2020 5:10 am
Location
Advertisement

दलित-पिछड़ा उत्पीड़न हिंसा का हब बना उत्तर प्रदेश : अजय कुमार

khaskhabar.com : मंगलवार, 07 जुलाई 2020 1:39 PM (IST)
दलित-पिछड़ा उत्पीड़न हिंसा का हब बना उत्तर प्रदेश : अजय कुमार
लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि योगी राज के तीन सालो में प्रदेश दलित-पिछड़ा हिंसा, उत्पीड़न और बलात्कार का हब बन गया है। अजय कुमार आज यहां अनुसूचित विभाग की प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यूपी में दलितों पिछडो पर होने वाले अत्याचार का दिनों-दिन इजाफा हो रहा है।

उन्होंने कहा कि योगी राज के तीन सालो में प्रदेश दलित-पिछड़ा हिंसा, उत्पीड़न और बलात्कार का हब बन गया है। दलितों पिछडो पर होने वाले अत्याचार का दिनों दिन इजाफा हो रहा है। योगी मंत्रिमंडल और भाजपा में शामिल दलित- पिछड़े नेताओं मंत्रियों की हैसियत नहीं है कि वो ऐसे उत्पीड़न के खिलाफ आवाज तक उठा सके।

उन्होंने कहा, "दलित- पिछड़ा उत्पीड़न करने वालो को संस्थानिक संरक्षण मिला हुआ है । सरकारी एजेंसी एनसीआरबी के डाटा बता रहे हैं की प्रदेश में रोज 33 मामले दलितों पर अत्याचार के रिपोर्ट हो रहे है । संकल्प पत्र में जो दलितों-पिछडो के सुरक्षा के वादे किये गए थे वह खोखले साबित हो रहे हैं।"

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष अलोक प्रसाद ने कहा कि पिछले दिनों हुई विभाग की प्रदेश स्तरीय बैठक में प्रदेश में बढ़ती हिंसा, बलात्कार और उत्पीड़न को लेकर एक निंदा प्रस्ताव पास किया है । उन्होंने कहा कि दलितों के उत्पीड़न के कुल दर्ज मामलो (2008) में से आधे से ज्यादा यूपी में है।

अनुसूचित जाति विभाग के उपाध्यक्ष तनुज पुनिया ने कहा कि कोरोना आपदाकाल में बड़े पैमाने पर असंगठित क्षेत्र में लगे दलित-पिछड़े मजदूरो को अपना रोजगार खोना पड़ा है । यह रोजगार ही उनकी प्रमुख आय का श्रोत है। ऐसे में सरकारों को तत्काल दलितों-पिछडो के लिए आर्थिक पैकेज की घोषणा करनी चाहिए।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement