Used to deal with girls according to beauty, the rate of girls was kept from 50 thousand to 3 lakhs -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 29, 2022 1:06 am
Location
Advertisement

सुन्दरता के हिसाब से करता था लडकियों का सौदा, 50 हजार से 3 लाख तक कर रखी थी लडकियों की रेट

khaskhabar.com : शनिवार, 26 फ़रवरी 2022 07:09 AM (IST)
सुन्दरता के हिसाब से करता था लडकियों का सौदा, 50 हजार से 3 लाख तक कर रखी थी लडकियों की रेट
कोटा । बपावर कलां थाना पुलिस ने शुक्रवार को लड़कियों की खरीद फरोख्त में लिप्त थाना गोपीवल्लवपुर जिला झाङग्राम पश्चिम बंगाल निवासी अन्तर्राज्य तस्कर श्यामसुन्दर राणा उर्फ शंकर पात्रा पुत्र बिमल चन्द्र राणा (41) को गिरफ्तार किया है। आरोपी बंगाल, छत्तीसगढ़ व उड़ीसा राज्य की गरीब तबके की लडकियों को नौकरी का झांसा देकर कोटा ओर बारां लेकर आता ओर उनका सौदा कर देता।
ग्रामीण एसपी कावेन्द्र सिंह सागर ने बताया कि 17 फरवरी,2022 को एक नाबालिग लड़की ने थाना बपावर कलां पर रिपोर्ट पेश कि की वह जिला मयूरभंज उडीसा की रहने वाली है। 11 फरवरी को शंकर पात्रा किसी कम्पनी मे काम दिलाने के बहाने बांरा लेकर आया ओर उसे भूलभूलैया चौराया बारां निवासी देवकरण सेन के पास ले गया। जहा सत्यनारायण धाकड निवासी नयापुरा थाना बपावर व देवकरण उसे बांरा से बपावर कलां लेकर गये। दोनो ने उसे कुन्जबिहारी मीणा निवासी नयापुरा थाना बपावर को बेच दिया। कुन्जबिहारी ने शाम को मांग भर व मंगलसूत्र पहना कर जबरन शादी की ओर रात को दुष्कर्म किया। दिन मे मौका पाकर कुंजबिहारी के घर से भाग कर आयी हूँ।
इस रिपोर्ट पर थाना बपावर कलां पर पोक्सो एक्ट में मुकदमा पंजीबद्व कर थानाधिकारी बपावर कलां भंवर सिंह शक्तावत द्वारा अनुसंधान के दौरान पीडिता के कोर्ट में बयान करवाये। नाबालिग से जबरन शादी व दुष्कर्म करने के आरोप में कुंजबिहारी मीणा पुत्र चन्दा लाल (24) व सत्य नारायण पुत्र जगदीश धाकड निवासी नयापुरा थाना बपावर कलां को 21 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। मामले में वांछित दलाल व लडकी की खरीद फरोक्त मे शामिल अपराधी की तलाश के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीताराम प्रजापत के सुपरविजन व सीओ सांगोद रामेश्वर परिहार के निर्देशन एवं थानाधिकारी बपावर कलां के नेतृत्व में एक विषेष पुलिस टीम का गठन किया गया।
एसपी सागर ने बताया कि दलाल व तस्कर की तलाश में संभावित स्थानों पर अलग अलग टीमे बनाकर रवाना की गई। गुरुवार को मुखबीर से सूचना मिली की तस्कर श्यामसुन्दर राणा उर्फ शंकर पात्रा अपना हिसाब करने देवकरण से मिलने बांरा आयेगा। सूचना पर टीम ने बारां जिले में भूलभूलेया चौराहे पर श्यामसुन्दर राणा उर्फ शंकर पात्रा को दबोच लिया।

पूछताछ में सामने आया कि वह लडकियो को नोकरी का झासा देकर बंगाल, ओडिसा व छतीसगढ से बहला पुसलाकर कर लाता है तथा राजस्थान में कोटा व बांरा में लडकियों की डिमांड ज्यादा होने से यहा पर लेने वाले ज्यादा मिलने व पैसे अच्छे मिलने से बेच देता है। बांरा निवासी देवकरण सेन से बात कर वह नाबालिग लडकी को लेकर बांरा आया। जहा पर 50 हजार रुपये में लडकी का सौदा हुआ था। जिसके बाद में आज देवकरण से लडकी के सौदे के पैसे लेने आया था।


आधार कार्ड में करता छेडछाड:- श्यामसुन्दर राणा उर्फ शंकर पात्रा से पुछताछ में आयी जानकारी से पुलिस टीम भी दंग रह गई थी। अपराधी इतना शातिर प्रवति का है की उसने लडकी व लडकी की खरीद फरोक्त करने वालो को भी अपना शंकर पात्रा बताया तथा उसने इस पहचान उजागर न हो इसलिऐ अपने फर्जी नाम पते के आधार कार्ड में फोटो एडिट कर के अपना फोटो लगाकर आधार कार्ड भी बना रखा था। तथा पीडित लडकी नाबालिग होने पर भी उसको बालिग दिखाले के लिऐ भी पीडिता के आधार कार्ड में उसकी जन्म तिथि को एडिट कर दिया। ताकि उसको बेचने मे उसको कोई कठिनाई नही आये।

पहले भी हूई है गिरफ्तारी:-
श्यामसुन्दर राणा उर्फ शंकर पात्रा से पुछताछ में पता चला है की वह 04 लडकियों को नोकरी दिलाने का झांसा देकर बेचने के मामले मे जमषेदपुर झारखण्ड में जनवरी 2022 में गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद उस प्रकरण में जमानत पर आजाद चल रहा था। लडकियों को नोकरी दिलाने का झांसा देकर बेचने के मामले मे शामिल अन्य के बारे मे पूछताछ की जा रही है। तथा प्रकरण में वांछित अन्य की तलाष जारी है। अपराधी द्वारा पूर्व में अमरलाल व राजू निवासी अयाना को 4-5 लडकिया देना बताया है। जिसके संबंध में पुछताछ जारी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement