Unnao Rape Case : Court frames charges against Kuldeep Singh Sengar for murder of complainants father-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 22, 2019 7:37 pm
Location
Advertisement

Unnao Rape Case : कुलदीप सेंगर को एक और झटका, पीडिता के पिता की हत्या के मामले में बनाया आरोपी

khaskhabar.com : मंगलवार, 13 अगस्त 2019 8:49 PM (IST)
Unnao Rape Case : कुलदीप सेंगर को एक और झटका, पीडिता के पिता की हत्या के मामले में बनाया आरोपी
लखनऊ। उत्तरप्रदेश के उन्नाव रेप केस के आरोपी और विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर कानून का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने उन्नाव रेप पीड़िता के पिता की न्यायिक हिरासत में कथित मौत के मामले में बीजेपी से निष्कासित विधायक कुलदीप सेंगर और अन्य के खिलाफ मंगलवार को आरोप तय किये। जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने पीड़िता के पिता को 2018 में सशस्त्र अधिनियम के तहत आरोपी बनाने और उन पर हमला करने के मामले में सेंगर और अन्य के खिलाफ आरोप तय किए हैं।

मंगलवार को दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि पीडि़ता के पिता को मारा गया, इस दौरान 18 जगह चोट आने की वजह से घटना के चौथे दिन उनकी मृत्यु हो गई। कोर्ट ने कहा कि ये पूरा षडयंत्र सिर्फ इसलिए रचा गया ताकि पीडि़ता इस मामले में अपनी शिकायत दर्ज न कर पाए। कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा कि पुलिस ने जिस दौरान पीडि़ता के पिता को पीटा, उस वक्त के गवाहों के बयान से साफ है कि सेंगर पुलिस के संपर्क में था।

दूसरी ओर, सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से उन्नाव दुष्कर्म पीडि़ता और उसके परिजनों के खिलाफ दायर 20 से अधिक मामलों पर रिपोर्ट मांगने से मंगलवार को इनकार कर दिया। उन्नाव दुष्कर्म पीडि़ता अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। जस्टिस दीपक गुप्ता की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने कहा कि पीठ मामले का दायरा नहीं बढ़ाना चाहती है। उन्होंने कहा, ‘दुष्कर्म पीडि़ता और उसके परिवार के खिलाफ दर्ज अन्य मामलों में पीठ हस्तक्षेप नहीं करना चाहती है। पीठ ने यह बात उस वक्त की जब एक वकील ने दुष्कर्म पीडि़ता और उसके परिजनों के लंबित पड़े मामलों के बारे में बात की। अदालत ने कहा कि वह पीडि़ता से जुड़े पहले के उन पांच मामलों में ध्यान केंद्रित करना चाहती है, जिनमें सुनवाई की गई थी। मामले में आगे की सुनवाई सोमवार तक के लिए टाल दी गई है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement