Union Jal Shakti Minister Gajendra Singh Shekhawat attended the program under PM Cares for Children scheme from Jodhpur-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 16, 2022 4:01 pm
Location
Advertisement

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत कार्यक्रम में जोधपुर से हुए सम्मिलित

khaskhabar.com : सोमवार, 30 मई 2022 7:01 PM (IST)
केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत कार्यक्रम में जोधपुर से हुए सम्मिलित
जोधपुर । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत दी जाने वाली सुविधाओं को जारी किया। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कार्यक्रम के अंतर्गत आज जोधपुर से केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्मिलित हुए और उन्होंने भी जोधपुर में बच्चों को योजना के तहत सुविधाएं उपलब्ध करवाई। इस योजना के अंतर्गत देश के 4345 और राजस्थान में 206 बच्चों को इस योजना की सुविधा का लाभ मिला है।

इस अवसर पर केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि कोरोना की आपदा ने देश और दुनिया के जीवन को बहुत प्रभावित किया है। देश के कई लोगों ने आपदा में कुछ खोया है, लेकिन देश के बहुत से बच्चों ने अपना सब कुछ खो दिया है, उन्होंने माता-पिता दोनों को खोया है। शेखावत ने कहा कि प्रधानमंत्री ने ऐसे साढ़े चार हजार बच्चों से अधिक को देशभर में चिन्हित करके पीएम केयर चिल्ड्रन रिलीफ़ फंड से उनकी ज़िम्मेदारी ऐसे संवेदनशील निर्णय की शुरुआत की है। उन बच्चों को जीवन के प्रारम्भिक वर्ष में उस कठिन दौर में भावनात्मक और आर्थिक रूप से संबल प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री ने योजना दी है।

शेखावत ने कहा कि सभी बच्चों को प्रारंभिक समय में निशुल्क शिक्षा आरटीआई के तहत मिले, केंद्रीय विद्यालय, सैनिक स्कूल, कस्तूरबागांधी, आवसीय विद्यालय में प्रवेश प्राथमिकता के आधार पर मिले। बच्चों की किताबों तक का खर्च सरकार वहन करे। इसी क्रम में 18 वर्ष का होने के उपरांत 10 लाख रुपए पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत प्रत्येक बच्चे के खाते में इस प्रकार जमा किया जाए कि 18 से 23 साल तक प्रतिमाह उसका ब्याज स्टाइफंड के रूप में 23 वर्ष में पूरा 10 लाख एकमुश्त मिले।
शेखावत ने कहा कि तकनीकी व उच्च शिक्षा के लिए लोन ब्याज मुक्त मिले और ब्याज का भुगतान पीएम केयर्स फॉर चिल्ड्रन योजना के तहत इसकी व्यवस्था की गई है। बच्चों को भावनात्मक रूप से संबल प्रदान करने के लिए जिलाधिकारी के नेतृत्व में संरक्षक बनाते हुए पोर्टल बनाया गया है, जहां शिकायत के लिए पंजीकरण किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि देश, सरकार, समाज व सभी की ज़िम्मेदारी है ऐसे बच्चों की चिंता उनका पालन-पोषण बेहतर हो इसकी चिंता सब मिलकर करें। प्रधानमंत्री ने आज नई दृष्टि दी है जो निश्चित ही समाज में कठिनाई के दौर से गुजर रहे लोगों को संबल और प्रेरणा दे सके।

इस अवसर पर जोधपुर जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता, मुख्य कार्यकारी अधिकारी अभिषेक सुराना, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता के उपनिदेशक, अनिल व्यास, बाल अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक डॉ बी एल सारास्वत, बाल कल्याण समिति के सदस्य व बच्चों सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement