Under the rule of Gehlot, there is a brokerage of oxygen, hospital beds, ventilators and Remedisvir injections. -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 22, 2021 1:48 am
Location
Advertisement

गहलोत के शासन में ऑक्सीजन, अस्पतालों के बिस्तर, वेंटिलेटर्स और रेमेडिसविर इंजेक्शन की दलाली हो रही है - डॉ. सतीश पूनिया

khaskhabar.com : रविवार, 09 मई 2021 8:44 PM (IST)
गहलोत के शासन में ऑक्सीजन, अस्पतालों के बिस्तर, वेंटिलेटर्स और रेमेडिसविर इंजेक्शन की दलाली हो रही है - डॉ. सतीश पूनिया
जयपुर। गहलोत सरकार के कोरोना कुप्रबंधन, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर्स, अस्पतालों के बेड्स, रेमेडिसविर इत्यादि की कालाबाजारी को लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कठघरे में खड़ा करते हुये निशाना साधा है।

डॉ. पूनिया ने कहा कि, कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में राजस्थान सरकार का कुप्रबंधन इस कदर है कि शायद इतिहास के काले अक्षरों में दर्ज हो जाए। उन्होंने कहा कि, राज्य में मरीज अस्पतालों के दरवाजों पर दम तोड़ रहे हैं, क्या यह राज्य सरकार की नैतिक जिम्मेदारी नहीं थी कि सालभर में चिकित्सा व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करती और मरीजों को न्याय देती?

उन्होंने कहा कि, क्या राजस्थान की गहलोत सरकार इस बात का जवाब देगी कि उसकी नाक के नीचे ऑक्सीजन, अस्पतालों के बिस्तर, वेंटिलेटर्स की दलाली हो रही है, साथ ही रेमेडिसविर इंजेक्शन की दलाली भी जाहिर है ही, यह हम नहीं कह रहे, राज्य की एजेंसी एसीबी कहती है।
उन्होंने कहा कि, क्या सरकार इस बात का जवाब देगी कि 1500 वेंटिलेटर्स भारत की मोदी सरकार ने पीएम केयर्स फंड के माध्यम से राज्य सरकार को दिए थे, उनमें से ज्यादातर या तो इंस्टॉल नहीं हुए और जो इंस्टॉल हुए तो भरतपुर जिले में किस तरीके से सरकारी वेंटिलेटर्स निजी अस्पताल को किराए पर दिए गए और उदयपुर में भी काफी संख्या संख्या में वेंटिलेटर्स अनुपयोगी पाये गये, जिनको काम में ही नहीं लिया जा रहा।

डॉ. पूनिया ने कहा कि, क्या यह सरकार बेड्स ऑन सेल, वेंटिलेटर ऑन रेंट की तर्ज पर चलेगी ? इस सरकार को निश्चित रूप से जवाब देना पड़ेगा कि पिछले एक वर्ष में चिकित्सा और स्वास्थ्य की सुविधाओं को विकसित क्यों नहीं किया गया? इस बात का जवाब राजस्थान की जनता निश्चित रूप से मांगेगी। शर्मनाक है इस तरीके से राज्य सरकार की नाक के नीचे दलाल पनप रहे हैं और मरीजों के जीवन से खिलवाड़ हो रहा है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement