Uday Lal Anjana said, 1840.70 crore purchase from one lakh 52 thousand 691 farmers, Payment to all farmers-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Apr 6, 2020 5:07 pm
Location
Advertisement

एक लाख 52 हजार 691 किसानों से हुई 1840.70 करोड़ की खरीद, सभी किसानों को हुआ भुगतान: उदय लाल आंजना

khaskhabar.com : गुरुवार, 27 फ़रवरी 2020 4:59 PM (IST)
एक लाख 52 हजार 691 किसानों से हुई 1840.70 करोड़ की खरीद, सभी किसानों को हुआ भुगतान: उदय लाल आंजना
जयपुर। सहकारिता मंत्री उदय लाल आंजना ने गुरुवार को बताया कि प्रदेश में पहली बार रबी सीजन के दौरान समर्थन मूल्य पर मूंग, उड़द एवं मूंगफली खरीद कर सभी किसानों उनकी उपज का भुगतान कर दिया गया है। यह पहली बार हुआ है कि किसान को उपज बेचान के तीन दिन में उसके खाते में राशि का भुगतान हुआ है। उन्होंने बताया कि 1 लाख 52 हजार 691 किसानों से 1 हजार 840 करोड़ 70 लाख रुपये की खरीद की गई है।
आंजना ने बताया कि 19 फरवरी को राज्य में समर्थन मूल्य पर खरीद समाप्त हुई है और 22 फरवरी तक सभी किसानों को उनकी उपज का भुगतान उनके खातों में ऑनलाइन कर दिया गया है।

रजिस्ट्रार सहकारिता नरेश पाल गंगवार ने बताया कि मूंग 121669.07 मीट्रिक टन, तथा मूंगफली 193080.23 मीट्रिक टन की खरीद की है। उन्होंने बताया कि 69 हजार 304 किसानों से 857.77 करोड़ रुपये मूल्य का मूंग तथा 83 हजार 375 किसानों से 982.78 करोड़ रुपये मूल्य की मूंगफली खरीद की गई है।

राजफैड की प्रबंध निदेशक सुषमा अरोड़ा ने बताया कि 1 नवबंर से मूंग, उड़द एवं 7 नवम्बर से मूंगफली की खरीद प्रारंभ की गई थी। उन्होंने बताया कि पहली बार तीन दिन में किसानों को भुगतान होने से किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने बताया कि समय-समय पर पंजीयन सीमा बढ़ाकर किसानों को समर्थन मूल्य पर खरीद से लाभान्वित किया गया है।

अरोड़ा ने बताया कि इस वर्ष मूंग के लिये 150 खरीद केन्द्र मूंगफली के लिये 78, उड़द के लिये 61 तथा सोयाबीन के लिये 39 खरीद केन्द्र बनाये गये। उन्होंने बताया कि किसानों से मूंग की 7050 रुपये प्रति क्विंटल, मूंगफली 5090 रुपये तथा उड़द 5700 रुपये प्रति क्विंटल की दर से समर्थन मूल्य पर खरीद की गई है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement