thug arrest in Harayana-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 18, 2021 2:37 am
Location
Advertisement

पैसा डबल करने का झांसा देकर लोगों को ठगता था ऐसे, एक गिरफ्तार

khaskhabar.com : रविवार, 28 अप्रैल 2019 6:25 PM (IST)
पैसा डबल करने का झांसा देकर लोगों को ठगता था ऐसे, एक गिरफ्तार
कैथल। आपराधिक षडय़ंत्र रचते हुए एक व्यक्ति को दो साल में नकदी दोगुनी होने के लालच दिखाकर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा जालसाजी पूर्वक 31 लाख रुपए हड़पने के मामले में स्पैशल साईबर सेल द्वारा पिजौंर में दबिश देते हुए एक आरोपी गिरफ्तार किया गया है। साइबर टीम ने अारोपी के कब्जे से हड़पी गई 6 लाख रुपए नकदी बरामद कर ली गई।

पूछताछ के लिए आरोपी काे न्यायालय से 30 अप्रैल तक दो दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया गया है। पुलिस अधीक्षक वसीम अकरम ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि रसीना निवासी एक व्यक्ति की शिकायत पर थाना पुंडरी में 7 जनवरी को दर्ज मामले अनुसार उसकी अनाज मंडी पुंडरी में 14 फरवरी को उसके मोबाईल पर किसी ओमप्रकाश का फोन आया कि वह शेयर मार्किट में इंन्वेस्टमैंट करवाने का का काम करता है।

इसी मोबाईल से ओमप्रकाश की कथित पुत्री नेहा गुप्ता द्वारा भी फोन आश्वासन दिया गया कि हम आपके पैसे दो साल में डबल करके आपको दे देंगे। जालसाज गिरोह के झांसे में आकर कथित ओमप्रकाश द्वारा अनाज मंडी पुंडरी में एक युवक को अपना पुत्र बताकर भेजा गया, जिसको दोगुने पैसे के लालच में आए व्यक्ति द्वारा 3 लाख 50 हजार रुपए नकदी दे दी गई।

कुछ दिन बाद युवक के पास ओमप्रकाश का फोन आया कि हम आपके काम से गोवा गए हुए है, यहां हमारी गाडी दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिसको ठीक करवाने के लिए रुपयों की जरुरत है, आपके पास अपना लडका भेज रहा हूॅ, किसी भी तरीके से पैसे का इंतजाम करके उसे 4 लाख रुपए दे दो, तो 20 फरवरी को उसने पैसे का प्रबंध करते हुए ओमप्रकाश द्वारा भेजे गए सतीश नामक लडके को 3 लाख रुपए देने के अतिरिक्त उनके कहे अनुसार जरुरत के पैसे निकलवाने के लिए अपना एटीएम भी उस युवक को सौंप दिया।

आरोपियों के झांसे मे आए व्यक्ति द्वारा ओमप्रकाश के कहे अनुसार 13 फरवरी को एक अकांउट में 2 लाख 70 हजार रुपए भी जमा करवा दिए गये, जबकि इस मध्य आरोपी एटीएम की मार्फत भी 21 लाख 87 हजार रुपए नकदी निकलवा चुके थे। पिडित ने शिकायत की कि अब तक आरोपियों ने ना तो उसकी नकदी 31 लाख 7 हजार रुपए नकदी लौटाई, अब फोन भी नहीं उठा रहे है, जिन्होंने सोची समझी साजिश अंतर्गत उसकी मेहनत की कमाई एंठ ली। एसपी ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए अभियोग की जांच स्पैशल साईबर क्राईम सैल के सुपूर्द की गई।

इंचार्ज एससीसी सैल सबइंस्पैक्टर शिवकुमार द्वारा उपरोक्त मामले में पिजौंर दबिश देते हुए करीब 33 वर्षीय आरोपी राकेश कुमार निवासी चुहड़पुर जिला जींद हाल निवासी हिमशिखा कालोनी पिजौंर को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी की निशानदहेही पर उसके पिजौंर स्थित किराया के मकान से हड़पी गई 6 लाख रुपए की नकदी बरामद कर ली गई। पूछताछ दौरान आरोपी ने कबूला कि उसने गबन की गई नकदी से जींद में एक मकान खरीदने के अतिरिक्त एक गाडी खरीद ली। व्यापक पूछताछ के लिए आरोपी का 30 अप्रैल तक दो दिन के लिए पुलिस रिमांड हासिल किया गय है। विदित रहे कि उपरोक्त मामले में आरोपी का सगा भाई विकाश उफ बिट्टू व गांव थीट जिला झज्जर निवासी आशीश पहले ही गिरफ्तार किए जा चुके है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement