These places will be developed as tourism industry in Punjab, expenditure will be 10 crores rupees-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 27, 2021 4:34 am
Location
Advertisement

ये 30 स्थल होंगे पर्यटन उद्योग के तौर पर विकसित, खर्च होंगे 10 करोड़ रुपए

khaskhabar.com : मंगलवार, 19 जून 2018 4:34 PM (IST)
ये 30 स्थल होंगे पर्यटन उद्योग के तौर पर विकसित, खर्च होंगे 10 करोड़ रुपए
चंडीगढ़/फिऱोज़पुर। पर्यटन विभाग द्वारा राज्य में पर्यटन उद्योग को विकसित करने, लोगों के लिए रोजग़ार के बड़े अवसर पैदा करने और सैलानियों को विशेष सुविधा मुहैया करवाने के लिए शहीद स्मारक हुसैनीवाला, ऐतिहासिक गुरुद्वारा सारागढ़ी फिऱोज़पुर और हरीके वैट्टलैंड सहित राज्य के लगभग 30 ऐतिहासिक महत्ता वाले स्थानों को सैलानी केंद्र के तौर पर विकसित किया जायेगा। सरकार की तरफ से इस प्रोजैक्ट पर 600 करोड़ रुपए ख़र्च करन की योजना है। यह खुलासा कैबिनेट मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने शहीद स्मारक हुसैनीवाला में शहीदों को श्रद्धा के फूल भेंट करने के उपरांत किया।

कैबिनेट मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने बताया कि शहादत स्मारक हुसैनीवाला की महत्ता को समझते हुए और इस ऐतिहासिक स्थान पर देश और विदेश के सैलानियों को आकर्षित करने के लिए बड़ी योजना बनायी गई है जिसके अंतर्गत शहादत स्मारक और ऐतिहासिक गुरुद्वारा सारागढ़ी के विकास पर और इसको सैलानी केंद्र के तौर पर विकसित करने पर 10 करोड़ रुपए की राशि ख़र्च की जायेगी। इसके अंतर्गत शहादत स्मारक का जहाँ कायाकल्प किया जायेगा, वहीं सैलानियों को आकर्षित करने के लिए लेजर शो रेस्टोरैंट, लैंड स्कीपिंग पखाने सहित हर सुविधा मुहैया करवाई जायेगी। उन्होंने कहा कि फिऱोज़पुर शहर से विधायक स. परमिंदर सिंह पिंकी की तरफ से उनके विभाग को इन स्थानों के विकास के लिए जो-जो प्रस्ताव भेजे गए हैं उसे पूरा किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शहादत स्मारक हुसैनीवाला और ऐतिहासिक गुरुद्वारा सारागढ़ी साहिब हमारी आस्था का केंद्र हैं और इसके विकास पर इसको अंतरराष्ट्रीय स्तर की सहूलतों देकर विकसित किया जायेगा।

इससे पहले कैबिनेट मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू ने हरीके वैट्टलैंड का भी दौरा किया। उन्होंने कहा कि हरीके वैट्टलैंड को विश्व स्तरीय पर्यटक आकर्षण केंद्र बनाया जायेगा और वन एवं सिंचाई विभाग के साथ परामर्श करके यहाँ सैलानियों के लिए मोटर बोट, किश्तियों, रैस्टोरैंट, टैंट्स वाले होटल और पूरे क्षेत्र को पर्यावरण हितैषी बनाया जायेगा जिससे देश विदेश से सैलानी यहाँ पहुँच सकें। उन्होंने यह भी बताया कि हरीके हैड वर्कस से निकलती नहरों सरहिंद फीडर और फिऱोज़पुर पर तैरने वाले रैस्टोरैंट बनाऐ जाएंगे।

उन्होंने कहा कि फिऱोज़पुर जि़ले से संबंधित इन ऐतिहासिक और सैलानी महत्ता वाले स्थानों की कायाकल्प के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी। उन्होंने कहा कि उनके विभागों का एक मात्र उद्देश्य पंजाब को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पर्यटने केंद्र के तौर पर विकसित करना है जिससे जहाँ राज्य में रोजग़ार के अवसर पैदा होंगे वहीं राज्य की तरक्की और विकास भी शिखर पर पहुँचेगा। उन्होंने कहा कि इस संबंधी सरकार के पास अपेक्षित फंड मौजूद हैं और अगले 3-4 महीनों के अंदर ही उपरोक्त स्थानों का मास्टर प्लान तैयार करके काम शुरू हो जायेगा।

फिऱोज़पुर से विधायक स. परमिंदर सिंह पिंकी और विधायक स. कुलबीर सिंह ज़ीरा ने कैबिनेट मंत्री स. नवजोत सिंह सिद्धू द्वारा किये जा रहे प्रयासों और शहादत स्मारक, गुरुद्वारा सारागढ़ी और हरीके वैट्टलैंड के विकास के लिए दिए जा रहे योगदान के लिए उनका धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि स. सिद्धू और पंजाब सरकार के इन प्रयासों से राज्य में सैलानी बड़े स्तर पर आऐंगे और लोगों के लिए रोजग़ार के साधन बढ़ेंगे तथा देश विदेश के लोग अपने ऐतिहासिक विरासत से अवगत होंगे।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री जत्थेदार इन्द्रजीत सिंह ज़ीरा, विभाग के सचिव विकास प्रताप, डायरैक्टर शिव दुलार सिंह ढिल्लों, सुमेर सिंह गुर्जर कमिश्नर फिऱोज़पुर/फरीदकोट डिविजऩ, डिप्टी कमिशनर रामवीर, स. चमकौर सिंह ढींढसा प्रधान जि़ला कांग्रेस कमेटी, अमित गुप्ता एस.डी.एम. ज़ीरा, स. चरनदीप सिंह एस.डी.एम. गुरूहरसहाय, बिट्टू सांघा, स. बलवीर सिंह बाठ, दलजीत सिंह दुलची, एडवोकेट गुलशन मौंगा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता भी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement