The fourth battle of Panipat-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 16, 2019 11:01 pm
Location
Advertisement

पानीपत से चौथी लड़ाई का बजाया बिगुल

khaskhabar.com : रविवार, 30 सितम्बर 2018 5:54 PM (IST)
पानीपत से चौथी लड़ाई का बजाया बिगुल
पानीपत। हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व सांसद डा. अशोक तंवर ने पानीपत की ऐतिहासिक धरती से चौथी लड़ाई का बिगुल बजाने का ऐलान किया। यह लड़ाई मोदी सरकार के राफेल महाघोटाले और प्रदेश की खट्टर सरकार के कुशासन के खिलाफ होगी। यह लड़ाई बीजेपी को उखाडऩे और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने तक जारी रहेगी।

पानीपत में आयोजित कांग्रेस की राफेल पोल-खोल, हल्ला बोल रैली को संबोधित करते हुए डा. अशोक तंवर ने राफेल डील में 1,44,144 करोड़ रुपए के घोटाले का पीएम मोदी पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि यह रकम हरियाणा राज्य के एक साल के कुल बजट 1.05 लाख करोड़ से भी अधिक है।
तंवर ने कहा कि पहले की तीन लड़ाइयों की तरह पानीपत से शुरू हुई चौथी लड़ाई भी देश का इतिहास बदलने का काम करेगी। एक लाख से अधिक लोगों की हाजिरी ने रैली को हरियाणा के इतिहास का सबसे बड़ा राजनीतिक आयोजन बना दिया। तंवर ने परत दर परत बीजेपी व केंद्र सरकार की राफेल घोटाला, नोटबंदी, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का नाम बदलकर आयुष्मान भारत रखने, सामाजिक सदभाव बिगाडऩे, बेरोजगारी को बढ़ावा देने आदि कारगुजारियों की पोल खोलते हुए हरियाणा में समरसता के साथ विकास के लिए अपना विजन भी रख दिया। हरियाणा की सडक़ों पर खट्टर एवं मोदी की जनविरोधी सरकारों के खिलाफ संघर्ष करने वाले किसानों-मजदूरों-नौजवानों-व्यापारियों-कर्मचारियों-महिलाओं सहित सभी वर्गों को कांग्रेस की ओर से समर्थन देने का ऐलान करते हुए कहा कि आपके दु:ख में कांग्रेस का हर कार्यकर्ता शामिल है और कांग्रेस की सरकार बनने पर आपके साथ हुए ज्यादतियों के जिम्मेदारों से हिसाब भी लिया जाएगा।
डा. अशोक तंवर ने हरियाणा के विकास के लिए अपना विजन रखते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर किसानों व गरीब परिवारों के सभी कर्ज माफ, बुढ़ापा पेंशन 3000 रुपए प्रतिमाह करने, गरीबों के लिए बीपीएल सर्वेक्षण कराने, हरियाणा के गठन से अब तक सरकारी नौकरी से वंचित परिवारों का सर्वेक्षण कराकर घर से एक सदस्य को पक्की नौकरी देने, कर्मचारियों के लिए एनपीएस को समाप्त कर पुरानी पेंशन नीति बहाल करने, छात्र संघ के प्रत्यक्ष चुनाव कराने, अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग सहित 36 बिरादरी के गरीब बच्चों को पढ़ाई-लिखाई के लिए स्कूल से लेकर उच्च शिक्षा तक छात्रवृति देने, एनहांसमेंट की समस्या का स्थाई समाधान, गरीबों को 100-100 गज के प्लाट देने की योजना को फिर से बहाल करने सहित बिना भेद-भाव हर वर्ग का भला करने जैसे कदम उठाए जाएंगे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement