T. Ravikant said Bank accounts will be seized for not depositing outstanding lease amount in 15 days-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jan 26, 2020 8:55 pm
Location
Advertisement

15 दिन में बकाया लीज राशि जमा नहीं कराने पर होंगे बैंक खाते सीज - टी. रविकांत

khaskhabar.com : शनिवार, 07 दिसम्बर 2019 3:42 PM (IST)
15 दिन में बकाया लीज राशि जमा नहीं कराने पर होंगे बैंक खाते सीज - टी. रविकांत
जयपुर। जयपुर विकास प्राधिकरण की बकाया लीज राशि जमा नहीं कराने वालों पर सख्त कार्रवाई करने का निर्णय लिया है। बकायादारों द्वारा 15 दिन में लीज राशि जमा नहीं कराने पर पीडीआर एक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए बैंक खाते सहित अन्य संपत्तियों को सीज करने की कार्रवाई की जाएगी।
जयपुर विकास आयुक्त टी. रविकांत ने शनिवार को जेडीए के मंथन सभागार में सभी जोन उपायुक्तों को बकाया लीज राशि वसूली की समीक्षा करते हुए यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लीज राशि पर सभी जोन उपायुक्तों को विषेष फोकस रखना होगा। उन्होंने जोनवार बकाया लीज राशि की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि बड़ी संख्या में बिल्डर्स पर लीज राशि बकाया है। जिसे वसूली के लिए व्यक्तिगत स्तर पर प्रयास करें। बैठक में बताया कि सभी लीज राशि बकायादारों की सूची जेडीए की वेबसाईट पर अपलोड कर दी गई है।
जेडीसी ने सभी उपायुक्तों को निर्देशित किया कि जोन में नीलामी किए जाने वाले भूखण्डों का चिह्निकरण कर सूची उपलब्ध करवाई जाए। जिससे उन्हें नीलामी कार्यक्रम में शामिल किया जा सकें। उन्होंने कहा कि 15 दिन बाद सभी जोन में टीम भेज कर रिक्त भूखण्डों का सर्वे कराया जाएगा। उन्होंने सर्वे कराने पर जिस जोन में रिक्त भूखण्ड पाए जाने पर संबंधित जोन के तहसीलदार, एटीपी एवं कनिष्ठ अभियंता के विरूद्ध कडी कार्रवाई की जाएगी।
जेडीए भूमि पर अतिक्रमण करने वालों के विरूद्ध होंगे मुकदमें दर्ज
जेडीसी टी. रविकांत ने सभी जोन उपायुक्तों एवं मुख्य नियंत्रक प्रवर्तन को निर्देश दिए कि जेडीए की भूमि पर अतिक्रमण करने वाले के विरूद्ध मुकदम दर्ज करवाएं। वहीं अतिक्रमण की ध्वस्तीकरण कार्रवाई में खर्च होने वाली राशि संबंधित से वसूल करें।
उन्होंने सभी जोन उपायुक्तों को आवासीय कॉलोनिया की सड़कों, पार्का एवं सुविधा क्षेत्र की भूमि पर अतिक्रमण को चिह्नित कर ध्वस्त करने एवं हटाने की कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement