Suspended Karauli sub-inspector in case of death of school student-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 8, 2019 12:24 am
Location
Advertisement

स्कूली छात्र के मौत के मामले में करौली उप निरीक्षक निलंबित, डीटीओ को चार्जशीट

khaskhabar.com : शनिवार, 23 फ़रवरी 2019 4:28 PM (IST)
स्कूली छात्र के मौत के मामले में करौली उप निरीक्षक निलंबित, डीटीओ को चार्जशीट
कोटा। प्रदेश के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने करौली में स्कूल बस के फर्श से फिसल कर हुई मासूम यश की मौत पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि घटना के दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा और भविष्य में इस तरह की घटना न हो इसके लिए सख्त से सख़्त कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने इस मामले में सब इंस्पेक्टर जितेंद्र मीणा को निलंबित करते हुए डीटीओ करौली को चार्जशीट देने एवं राज्य भर में बाल वाहनिओं मैं सुरक्षा इंतजामों की जांच के निर्देश दिए हैं।
खाचरियावास ने शनिवार को कोटा में स्थानीय सर्किट हाउस में पत्रकारों को इस मामले में संबोधित करते हुए कहा कि यह घटना इतनी दुखद है कि इस बारे में सोच कर ही मन व्यथित हो जाता है। विभागीय अधिकारियों या मानवीय लापरवाही के कारण ऐसी घटना का होना बर्दाश्त से बाहर है।
उन्होंने बताया कि जिला कलेक्टर करौली को घटना की तुरंत जांच करने के निर्देश दे दिए गये हैं एवं दौसा के क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को घटनास्थल पर भेजा गया। परिवहन मंत्री ने बताया कि राज्य के सभी जिला परिवहन अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्राधिकार में प्रत्येक स्कूल वाहिनी की सुरक्षा जांच कर रिपोर्ट दें। उन्होंने कहा कि स्कूल वाहिनी की सुरक्षा के अपने नियम बने हुए हैं। समय-समय पर इनकी जांच भी की जाती है लेकिन यह घटना बताती है कि अभी इस सिस्टम को और दुरुस्त किए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वाहन की फिटनेस में कमी किस तरह एक भयानक दुर्घटना का कारण बन सकती है, यह घटना इसी का एक सबक है।
उन्होंने कहा कि स्कूल वाहन में बच्चों की सुरक्षा के मामले में विद्यालय की भी बड़ी जिम्मेदारी है।
परिवहन मंत्री खाचरियावास ने स्कूली विद्यार्थियों के अभिभावकों से भी अपील की है कि वे स्कूली वाहनों को सुरक्षित बनाने एवं बनाए रखने में विभाग का सहयोग करें। इस संबंध में किसी भी शिकायत पर विभाग द्वारा त्वरित एवं उचित कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement