Suspected death of student in Noida school, school quietly cremated-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 27, 2020 3:07 pm
Location
Advertisement

नोएडा स्कूल में छात्रा की संदिग्ध मौत, स्कूल ने चुपचाप किया दाह संस्कार

khaskhabar.com : सोमवार, 13 जुलाई 2020 6:21 PM (IST)
नोएडा स्कूल में छात्रा की संदिग्ध मौत, स्कूल ने चुपचाप किया दाह संस्कार
गौतमबुद्धनगर। नोएडा सेक्टर 115 स्थित गुरुकुल स्कूल में एक छात्रा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। छात्रा की उम्र 14 साल थी और छात्रा 10वीं में पढ़ती थी। स्कूल पर आरोप है कि स्कूल प्रशासन ने छात्रा के बारे में पुलिस को सूचना नहीं दी। इतना ही नहीं आनन फानन में छात्रा के परिवार को बुलाकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। मृत छात्रा का परिवार हरियाणा का रहने वाला है। उन्होंने बेटी का एडमिशन पिछले साल ही कराया था। छात्रा की 13 वर्षीय बहन इसी स्कूल में पढ़ती है और उसका भाई भी इस स्कूल की एक दूसरी ब्रांच में है।

वहीं नोएडा से लड़की के घर के लिए पुलिस टीम भी रवाना हुई है जिससे शिकायत दर्ज कराई गई है।

लड़की की मां ने एक वीडियो जारी कर मदद मांगते हुए उसने स्कूल पर आरोप लगाया, "मेरी बेटी की हत्या हुई है। मुझे शक है कि गुरुकुल स्कूल में मेरी बेटी के साथ दुष्कर्म भी किया गया है और उसको मार कर पंखे से लटका दिया गया।"

उन्होंने आगे कहा, "3 जुलाई को सुबह साढ़े 5 बजे स्कूल की तरफ से हमारे पास फोन आया और बोला गया कि आप जल्दी यहां आ जाओ। हमने पूछा भी किीक्या हुआ? लेकिन उन्होंने कुछ नहीं बताया, बस ये बोला कि आप आ जाओ, हम गाड़ी वगैरह सब कर देंगे। हमें तब तक कुछ नहीं बताया गया। जैसे ही हम स्कूल के अंदर गये हमारे फोन छीन लिए गए। उसके बाद हमें हमारी बेटी को पंखे से लटका दिखाया गया।"

लड़की की मां का आरोप है, "हमें स्कूल की तरफ से धमकी भी दी गई है।"

नोएडा डीसीपी संकल्प शर्मा ने आईएएनएस को बताया, "3 जुलाई का मामला है। हमें उस समय कोई जानकरी नहीं दी गई थी। हमें अभी तक कोई शिकायत भी नहीं मिली है। हमने परिवार से बात की है और बोला है कि आप शिकायत दर्ज कराएं, लेकिन अभी तक उनका कोई रेस्पॉन्स नहीं आया है।"

उन्होंने कहा, "हमने नोएडा से एक पुलिस टीम हरियाणा भेजी है। हमारी स्कूल में भी बात हुई है। उनका कहना है, "एक सुसाइड नोट मिला है। सुसाइड नोट के बारे में लड़की की मां ने भी बताया है।"

गुरुकुल के आचार्य देवेन्द्र ने बताया, "3 जुलाई को बच्चों की तरफ से चिल्लाने की आवाज सुनाई दी। हमने देखा कि लड़की ने चुन्नी से फांसी लगा रखी थी। हमने इसके बाद स्कूल के संस्थापक को सूचना दी। उसके बाद वह सभी लोग आए। स्कूल द्वारा माता पिता को फोन किया गया। उसके बाद संस्थापक और माता पिता के बीच क्या बात हुई मुझे नहीं पता।"

उन्होंने बताया, "सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें लिखा है कि मेरे परिवार से मेरे सम्बंध अच्छे नहीं थे और स्कूल का इसमें कोई दोष नहीं है।"

-- आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement