Study your mind with wisdom and discretion: Acharya Debavrat-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 18, 2019 1:17 pm
Location
Advertisement

बुद्धि व विवेक से अध्ययन को अपना लक्ष्य बनाएं विद्यार्थी : आचार्य देवव्रत

khaskhabar.com : शुक्रवार, 11 जनवरी 2019 7:43 PM (IST)
बुद्धि व विवेक से अध्ययन को अपना लक्ष्य बनाएं विद्यार्थी : आचार्य देवव्रत
शिमला। राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने कहा कि आदर्श मनुष्य का निर्माण बहुत कठिन है लेकिन जरूरी भी है। बुद्धि से लिए गए निर्णय सफलता की ओर और दिल से लिए गए निर्णय बर्बादी की ओर ले जाते हैं। इसलिए विद्यार्थियों को अपने परिजनों की नजर के समक्ष बुद्धि और विवेक से अध्ययन को ही अपना लक्ष्य बनाना चाहिए। राज्यपाल आज गुजरात के सूरत में वेसू स्थित अग्रवाल विद्या विहार स्कूल में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

आचार्य देवव्रत ने कहा कि शिक्षक ऐसा चिराग है, जो खुद जलता है और दूसरों को प्रकाशित करता है। शिक्षक को अपना सर्वस्व दाव पर लगाकर विद्यार्थी के सर्वांगीण विकास के लिए हमेशा सतर्क रहना पड़ता है। उन्होंने कहा कि बालक भाषण से नहीं बल्कि माता-पिता, परिवार और समाज के लोगों के अनुकरण से सीखता है। उन्होंने शिक्षकों का आह्वान किया कि वे आधुनिक संस्कृति के साथ-साथ भारतीय संस्कृति को संरक्षित करे और खेल सहित अन्य गतिविधियों से विद्यार्थियों में सुप्त अवस्था में पड़ी शक्ति को बाहर लाएं। उन्होंने विद्यार्थियों को सीख देते हुए कहा कि माता-पिता का गौरव, शिक्षकों का सम्मान और परिवार की इज्जत बढ़ाने के लिए उन्हें प्रयत्नशील रहना चाहिए।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement