Speed up test for prevention of corona infection - Chief Secretary-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 30, 2020 1:37 am
Location
Advertisement

कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए टेस्ट में तेजी लाये -मुख्य सचिव

khaskhabar.com : गुरुवार, 09 अप्रैल 2020 8:35 PM (IST)
कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए टेस्ट में तेजी लाये -मुख्य सचिव
जयपुर। प्रदेश के मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता ने गुरूवार को यहां शासन सचिवालय में कोरोना महामारी से निपटने के लिए आयोजित उच्च स्तरीय बैठक में राज्य एवं जयपुर की स्थिति की समीक्षा के दौरान अधिकारियोें को जयपुर में कोरोना वायरस संक्रमण रोकथाम के लिए क्षेत्र विशेष के अनुसार रणनीति अपनाकर तेजी से टेस्ट करने एवं अन्य आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए पर्याप्त मेडिकल टीम नियुक्त करने के साथ पीपीई किट्स, एन-95 मास्क एवं टेस्टिंग किट्स उपलब्ध कराए जाएंगे।

मुख्य सचिव गुप्ता ने कहा कि प्रदेश सहित जयपुर शहर में कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएं तथा कोरोना हॉट स्पॉट्स को पूरी तरह सील करें और शहर को कलस्टर में बांटकर रेपिड सैंपलिंग कर टेस्ट करें। उन्होंने परकोटे से बाहर संक्रमण फैलने से रोकने के लिए 12 अप्रेल से पहले रेंडम सैंपलिंग की पूरी तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को बेहतर स्क्रीनिंग और टेस्ट की संख्या बढ़ाने के लिए मॉनिटरिंग अधिकारी एवं मेडिकल टीमें बढ़ाने तथा भविष्य की जरूरत के मुताबिक पर्याप्त पीपीई किट्स, एन-95 मास्क एवं टेस्टिंग किट्स उपलब्ध कराना सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए।

मुख्य सचिव ने बताया कि जयपुर शहर में कोरोना संक्रमण की जांच कराने के इच्छुक लोगों के लिए मोबाइल एप विकसित किया जा रहा है। संक्रमण की आशंका से संबंधित लोग इस एप को डाउनलोड कर अपने लक्षण फीड कर सकेंगे। पेरा मेडिकल एवं चिकित्सकों के स्तर पर इन लक्षणों की जांच कर केसेज की छंटनी की जाएगी। उसके पश्चात् प्रशिक्षित टीम संबंधित व्यक्ति के घर जाकर स्क्रीनिंग करेगी। उसी के अनुसार तय किया जाएगा कि टेस्ट करना जरूरी है या नहीं।

मुख्य सचिव ने क्वारेंटाइन किए गए व्यक्तियों को रखे जाने के लिए निर्धारित प्रोटोकॉल की शत प्रतिशत पालना के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने क्वारेंटाइन व्यवस्था एवं प्रबंधन के लिए जयपुर विकास प्राधिकरण की जिम्मेदारी तय कर आयुक्त श्री टी रविकांत को नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर निगम को लाउड स्पीकर के माध्यम से सरल एवं प्रभावी तरीके से कोरोना एवं कफ्र्यू से संबंधित नियमित रूप से एनाउंसमेंट कराने के निर्देश दिए।
बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री राजीव स्वरूप ने कोरोना संक्रमण हॉट स्पॉट एवं अन्य इलाकों में कफ्र्यू की पालना कड़ाई से कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि समान रूप से प्रोटोकॉल लागू करते हुए नियम तोड़ने वालों के खिलाफ कठोरता से कार्यवाही करें।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जयपुर जिले के नोडल अधिकारी ऊर्जा विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री अजिताभ शर्मा ने जयपुर शहर में संक्रमण रोकथाम के लिए किए जा रहे प्रयासों से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि सैंपलिंग का कार्य पूरी क्षमता से प्रारम्भ कर दिया गया है। अगले कुछ ही दिन में 900 से अधिक सैंपल विभिन्न क्लस्टर्स में लिए जाने का लक्ष्य रखा गया है ताकि संक्रमण के फैलाव की असल जानकारी प्राप्त कर उचित कदम उठाए जा सकें। उन्होंने बताया कि क्षेत्र को तीस छोटे हिस्सों में बांटकर क्लस्टर आधारित सैंपलिंग प्रारभ की जाएगी। वहीं लक्षणों के आधार पर भी सैंपलिंग करवा सकेंगे। उन्होंने संक्रमण वाले इलाकों को पूरी तरह सील करने और कफ्र्यू की पालना कड़ाई से कराने के लिए ड्रॉन कैमरों की संख्या बढ़ाने और सीसीटीवी कैमरे लगाने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने आने वाले समय में विभिन्न उपकरणों, किट्स, मैनपावर आदि की जानकारी भी दी।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य रोहित कुमार सिंह, प्रमुख शासन सचिव सूचना एवं प्रौद्योगिकी अभय कुमार, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका, जयपुर पुलिस आयुक्त आनन्द श्रीवास्तव, शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा वैभव गालरिया, जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त टी. रविकांत, जिला कलक्टर जयपुर जोगाराम, सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त महेन्द्र सोनी, नगर निगम आयुक्त विजयपाल सिंह सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।



ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement