Social Justice Department of Empowerment Department Dr. Samit Sharma took review meeting of budget announcements -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 9, 2021 9:11 pm
Location
Advertisement

सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के शासन सचिव डाॅ. समित शर्मा ने बजट घोषणाओं की समीक्षा बैठक ली

khaskhabar.com : शनिवार, 10 अप्रैल 2021 4:35 PM (IST)
सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के शासन सचिव डाॅ. समित शर्मा ने बजट घोषणाओं की समीक्षा बैठक ली
जयपुर। प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के शासन सचिव के रूप में डाॅ. समित शर्मा ने शुक्रवार सुबह 9.30 बजे अम्बेडकर भवन स्थित कक्ष में कार्यभार संभाला। विभाग में पूर्व में निदेशक रह चुके डाॅ. शर्मा का अधिकारियों-कर्मचारियों ने भावभीना स्वागत किया। कार्यभार संभालते ही उन्होंने विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक ली।
विभाग की प्राथमिकताओं पर चर्चा - डाॅ. शर्मा ने विभाग के निदेशक श्री ओमप्रकाश बुनकर से इस माह के महत्वपूर्ण कार्यांे एवं गतिविधियों की जानकारी ली।
अम्बेडकर जयंती: इस दौरान उन्होंने विशेष रूप से दिनांक 14 अप्रेल को अम्बेडकर जयंती पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी ली और कार्यक्रम को वर्चुअल माध्यम से करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस अवसर पर दिए जा रहे अम्बेडकर पुरस्कारों के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए।

महिला सदन आवासिनी विवाह समारोह: दिनांक 30 अप्रैल को आयोजित होने जा रहे महिला सदन आवासिनी विवाह समारोह के आयोजन पर भी बैठक में चर्चा हुई। डाॅ. शर्मा ने कार्यक्रम का स्वरूप निर्धारित करते समय कोरोना गाइडलाइन्स की सीमाओं का ध्यान रखने के निर्देश दिए तथा कार्यक्रम को सुनियोजित तरीके से करने के निर्देश दिए।

बजट घोषणाओं पर बैठक - शासन सचिव ने विभाग की बजट घोषणाओं 2021-22 के क्रियान्वयन को पहली प्राथमिकता बताते हुए इसके लिए माइल स्टोन निर्धारित करने के निर्देश दिए। इस संबंध में निदेशक एवं संयुक्त शासन सचिव ने बताया गया कि अप्रैल के प्रथम सप्ताह में डीबीटी के माध्यम से राज्य के 33 लाख असहाय, निराश्रित व मजदूर परिवारों को अनुग्रह राशि के रूप में एक-एक हजार रूपये दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि आवासीय विद्यालयों, छात्रावासों को उच्च स्तरीय बनाने को प्राथमिकता देनी है। डाॅ. शर्मा ने छात्रावासों-आवासीय विद्यालयों में विद्यार्थियों को बेहतर शैक्षणिक वातावरण हेतु इंटरनेट कनेक्शन सुविधा के लिए विस्तृत प्रस्ताव तैयार करने को कहा ताकि इस सुविधा का एक यूनिट के रूप में बहुपक्षीय उपयोग किया जा सके।
इंटरनेट कनेक्शन के तहत इस तरह का इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित किया जाए जिसमें कम्प्यूटर, प्रोजेक्टर, स्मार्ट क्लास बोर्ड, स्मार्ट क्लास रूम के माध्यम से बेहतर शैक्षणिक वातावरण दिया जा सके।
शासन सचिव महोदय ने अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के सांगानेर-जयपुर,मुण्डावर, नारायणपुर(थानागाजी)-अलवर, डीग-भरतपुर,पाटन-सीकर सज्जनगढ़-बांसवाड़ा व बीकानेर स्थित 7 राजकीय अम्बेडकर छात्रावासों के भवनों के निर्माण का कार्य शीघ्र शुरू करने की आवश्यकता बताई और इसके लिए समयबद्ध कार्यक्रम तैयार करने को कहा।
उन्होंने ट्रांसजेण्डर समुदाय के उत्थान के लिये संवेदनशीलता से उनकी आवश्यकताओं को क्रियान्विति के दायरे में लाने पर जोर दिया।
जामड़ोली- जयपुर स्थित संस्थान में वृद्धजनों को रखने की क्षमता को 25 से बढ़ाकर 200 किये जाने तथा साथ ही, राजकीय वृद्धाश्रम पुष्कर, अजमेर की क्षमता बढ़ाकर इन्हें उत्कृष्ट स्तर के बनाये जाने की जरूरत बताई।
निदेशालय विशेष योग्यजन की बजट घोषणाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुए उन्होंने इन्हें शीघ्र क्रियान्वित करने की रणनीति तैयार करने के संबंधित को निर्देश दिए। इसके तहत “राज्य के ऐसे विशेष योग्यजन, जो वर्तमान में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना का लाभ प्राप्त कर रहे हैं, उनके परिवारों को बीपीएल के समकक्ष मानने के आदेश जारी करने तथा विशेष योग्यजन विद्यार्थियों को मिलने वाली वर्तमान छात्रवृति को बढाने के आदेश भी शीघ्र जारी करने को कहा।
डाॅ. शर्मा ने अधिकारियों की रैंकिग के मापदण्ड तय करने के निर्देश देते हुए समय पर कार्यालय आने और श्रेष्ठतम कार्य करने की अपेक्षा के साथ बैठक समाप्त की।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement