Shahpur Kandi Dam Project dedicated to the residents of Punjab-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 16, 2019 6:41 pm
Location
Advertisement

शाहपुर कंडी डैम प्रोजैकट पंजाब के निवासियों को समर्पित

khaskhabar.com : शुक्रवार, 08 मार्च 2019 7:53 PM (IST)
शाहपुर कंडी डैम प्रोजैकट पंजाब के निवासियों को समर्पित
शाहपुरकंडी (पठानकोट) । पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शाहपुरकंडी डैम का बहुत ही अहम प्रोजैकट राज्य के लोगों को समर्पित किया। इस प्राजैकट का निर्माण 2073 करोड़ रुपए की लागत से होगा।
मुख्यमंत्री के निजी प्रयासों से जम्मू -कश्मीर सरकार के साथ लंबित सभी मसलों का निपटारा किया गया जिस के बाद इस प्रोजैकट पूर्णसुरजीती संभव हुई। इस की अनुमानित लागत जो साल 2016 तक खर्च किए जा चुके 640 करोड़ रुपए से अलग है, मुताबिक ऊर्जा के लिए 1408 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे जिस में पंजाब सरकार 100 प्रतिशत हिस्सा डालेगी जबकि सिंचाई के लिए 685 करोड़ रुपए का ख़र्च आना है जिस में 485 करोड़ रुपए भारत सरकार और 179.28 करोड़ रुपए राज्य सरकार की तरफ से दिए जाने हैं।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने यह प्राजैकट तीन सालों में मुकम्मल होने की घोषणा करते हुए कहा कि इस प्रोजैकट के चालू होने साथ राज्य भर में सिंचाई अधीन 5000 हैकटेयर ज़मीन को सिंचाई की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी। ऊर्जा पैदा करने के अतिरिक्त इस प्रोजैकट के साथ अप्पर बारी दोआब नहर के 1.18 लाख हैकटेयर क्षेत्रफल की सिंचाई सामर्थ्य में सुधार होगा।
कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि इस प्रोजैकट के साथ पाकिस्तान की ओर जाने वाले पानी में भारी कमी आएगी और यह डैम राज्य के बहुमूल्य जल स्रोतों को बचाने में भी सहायक होगा। उनकें कहा कि इस प्राजैकट कारण बाहर निकले लगभग 230 परिवारों को नौकरियों की पेशकश कर दी गई है जबकि बाकी 34 को भी जल्दी ही नौकरियाँ दीं जाएंगी। इस मौके मुख्य मंत्री ने संसद मैंबर सुनील जाखड़ और भोआ से विधायक जोगिन्द्र पाल के साथ शाहपुर तटीय डैम के निर्माण के लिए भरती हुए 5मुलाजिमों को निजी तौर पर नियुक्ति पत्र सौंपे।
शाहपुर तटीय तक सरहदी पट्टी को विश्व के प्रमुख सैर सपाटा स्थानों के तौर पर विकसित करन का जि़क्र करते मुख्य मंत्री ने बताया कि यह प्राजैकट सैर सपाटे को मौज मस्ती देने साथ-साथ क्षेत्र के निवासियों की आमदन में भी विस्तार करेगा। शाहपुर तटीय डैम के निर्माण के इलावा पानी रोकनो के लिए दीवार बना कर ऐतिहासिक मुकतेशवर मंदिर को भी पानी की मार से बचाया जायेगा।
सूबो की मन्दहाल स्थिति के लिए पूरी तरकें अकालियों को जि़म्मेदार ठहराते मुख्य मंत्री ने कहा कि जब साल 2007 में अकाली सत्ता में आए थे तो उस समय पर 43000 करोड़ रुपए का कजऱ् था जो उनकों के 10 सालों के कारजकाल दौरान बढ़ कर 2.10 लाख करोड़ तक पहुँच गया जबकि सूबो में विकास का एक भी काम नहीं करवाया।
लोग सभा मैंबर सुनील जाखड़ की तरफ से उठाई माँग को स्वीकार करते मुख्य मंत्री ने धार इलाको में मंडी बोर्ड की तरफ से 60 किलोमीटर नयी सडक़ें बनाने का ऐलान किया। उनकों ने जुग्याल में लड़कियों के लिए सरकारी कालेज बनाने के इलावा सुजानपुर के लिए सिवरेज प्राजैकट का भी ऐलान किया जिससे क्षेत्र के लोगों को बुनियादी सहूलतें मुहैया करवाई जा सकें।

मुख्यमंत्री ने धार में एक आई.टी.आई बनाने का भी ऐलान किया जिस के लिए टैंडर माँगे जा चुके हैं। उनकों ने इलाको में डाक्टरों की कमी की समस्या भी हल करन का भरोसा दिया। इस से पहले ऊर्जा मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने डैम प्रोजैकट को कैप्टन अमरिन्दर सिंह का एतिहासिक प्रयास बताया। उन्होंने कहा कि इस प्राजैकट के मुकमल होने के बाद इस समय पाकिस्तान को जा रहे पानी को पंजाब के लोग प्रयोग में लाने लगेंगे।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement