Scientists at IIT Kanpur claim identification of variability origin of blackhole x-ray-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Apr 2, 2020 12:16 pm
Location
Advertisement

ब्लैकहोल एक्सरे की परिवर्तनशीलता उत्पत्ति की पहचान का आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिकों का दावा

khaskhabar.com : शुक्रवार, 24 जनवरी 2020 6:37 PM (IST)
ब्लैकहोल एक्सरे की परिवर्तनशीलता उत्पत्ति की पहचान का आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिकों का दावा
कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर स्थित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि भारत दुनिया का पहला ऐसा देश है, जिसने ब्लैकहोल से निकलने वाली एक्सरे की परिवर्तनशीलता की उत्पत्ति की पहचान कर ली है। कानपुर आईआईटी और आईयूसीएए पुणे ने यह शोध इसरो द्वारा भेजे गए एस्ट्रोसैट के डेटा के जरिए किया है। आईआईटी कानपुर के वैज्ञानिकों की टीम ने एक बहुचर्चित ब्लैक होल बाइनरी 'जीआरएस से उत्सर्जित एक्स-रे का अध्ययन इसरो द्वारा प्रक्षेपित उप्रगह एस्ट्रोसैट के माध्यम से किया है।

उन्होंने मुंबई स्थित टीआईएफआर संस्थान में अध्ययन के निष्कर्षों का लार्ज एरिया एक्स-रे प्रपोर्शनल काउंटर (एलएएक्सपीसी) तथा सॉफ्ट एक्स-रे टेलीस्कोप (एसएक्सटी) उपकरणों की मदद से विश्लेषण किया। उन्होंने इन उपकरणों की विलक्षण क्षमताओं का इस्तेमाल करते हुए दोलन की आवृत्तियों की गणना के साथ-साथ आंतरिक डिस्क की त्रिज्या की गणना और प्रति सेकेंड ब्लैक होल में जाने वाले सूक्ष्म पदार्थ का सफल आंकलन किया है। उन्होंने अपने अध्ययनों के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला कि आवृत्ति और त्रिज्या में पारस्परिक संबंध है, त्रिज्या में परिवर्तन होने पर आवृत्ति में परिवर्तन परिलक्षित होता है, यह ध्वनि तरंगों के ब्लैक होल की आंतरिक त्रिज्या तक पहुंचने में लगने वाले समय का ठीक उल्टा होता है।

आज से चार दशक पूर्व भी ऐसी गणना सापेक्षता के सिद्धांत के आधार पर हुई थी। यह चिन्हीकरण सापेक्षता के नियमों के परीक्षण के लिए सामान्य प्रयोगशालाओं की स्थापना का मार्ग प्रशस्त करता है।
आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर पंकज जैन ने बताया कि जनरल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी (सापेक्षता के सामान्य सिद्धांत) से अब एक निश्चित दूरी पर मजबूत गुरुत्वाकर्षण के प्रभावों की जांच संभव होगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement