Read full interview of Union Minister of State for Agriculture and Farmers Welfare Kailash Choudhary-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 28, 2020 3:33 am
Location
Advertisement

‘मोदी सरकार की योजनाओं से किसानों को मिल रहा लाभ, 2022 तक आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य’

khaskhabar.com : बुधवार, 04 मार्च 2020 8:24 PM (IST)
‘मोदी सरकार की योजनाओं से किसानों को मिल रहा लाभ, 2022 तक आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य’
नई दिल्ली। किसानों की आमदनी वर्ष 2022 तक दोगुनी करने के लक्ष्य को हासिल करने को लेकर आश्वस्त केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी का कहना है कि मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई किसान केंद्रित योजनाएं अब धरातल पर उतर रही हैं और किसानों को इन योजनाओं का लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं के सफल कार्यान्वयन से किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी करना सुनिश्चित होगा।

कैलाश चौधरी ने बुधवार को आईएएनएस से खास बातचीत में कहा कि पहले (पूर्व की सरकारों के शासन काल में) किसानों के लिए जो योजनाएं बनाई जाती थीं, उनका लाभ किसानों तक नहीं पहुंच पाता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है और किसानों को तमाम योजनाओं का पूरा-पूरा लाभ मिल रहा है। एक दिन पहले चौधरी ने दावा किया था कि 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लक्ष्य को लेकर वे आश्वस्त हैं।

इस बाबत आईएएनएस ने उनसे पूछा कि वे किस आधार पर यह दावा करते हैं कि किसानों की आमदनी 2022 तक दोगुनी हो जाएगी? कृषि राज्यमंत्री ने कहा कि निर्धारित समय से पहले इस लक्ष्य को हासिल किया जाएगा, क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह लक्ष्य तय किया है और किसान भी इसको लेकर उत्साहित हैं, क्योंकि उनको लगता है कि पहली बार देश में ऐसा कोई प्रधानमंत्री आया है, जो किसानों की चिंता कर रहा है।

पहले की सरकारें किसानों के नाम पर राजनीति करती थीं, किसानों के नाम पर योजनाएं बनाती थीं, लेकिन वे योजनाएं धरातल पर नहीं उतरती थीं। उन्होंने कहा, 2014 से पहले कृषि का बजट 25,000-30,000 करोड़ रुपए से ज्यादा कभी नहीं रहा, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बजट में काफी वृद्धि की है।

पिछले साल कृषि का बजट 1,37,000 करोड़ रुपए था, जिसे बढ़ाकर इस साल 1,50,000 करोड़ रुपए से ज्यादा कर दिया गया है। पहले जहां पांच साल के दौरान कृषि पर खर्च होता था, उतना अब एक साल में होने लगा है। इससे जाहिर है कि प्रधानमंत्री किसान के लिए कुछ करना चाहते हैं और किसान भी उतनी ही ताकत के साथ मेहनत कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/2
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement