Rajasthan Police arrested 5837 wanted persons in 3 weeks -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 25, 2021 6:20 am
Location
Advertisement

राजस्थान पुलिस ने 3 सप्ताह में 5837 वांछित व्यक्तियों को किया गिरफ्तार

khaskhabar.com : गुरुवार, 29 जुलाई 2021 2:49 PM (IST)
राजस्थान पुलिस ने 3 सप्ताह में 5837 वांछित व्यक्तियों को किया गिरफ्तार
जयपुर। वांछित अपराधियों की धरपकड़ के लिए राजस्थान पुलिस द्वारा 5 जुलाई 2021 से प्रारंभ किया गया सघन अभियान अब 31 अगस्त 2021 तक बढ़ा दिया गया है।
अभियान के तहत प्रथम 3 सप्ताह में कुल 5837 वांछित व्यक्ति पकडे जा चुके है। इनमें से 4992 वांछित व्यक्ति पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जा चुके हैं व 845 ने न्यायालय में समर्पण किया है।

महानिदेशक पुलिस एम एल लाठर ने बताया कि इस अभियान के तहत सभी जिला पुलिस अधीक्षको को वांछित व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए व्यापक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए थे। पकड़े गए व्यक्तियों में से 283 व्यक्तियों पर नकद पुरस्कार घोषित था। वांछित अपराधियों की धरपकड़ अभियान के दौरान पुलिस के सभी थानों ने परस्पर समन्वय के साथ कार्य कर रहे है।

परिणाम स्वरूप संबंधित थाने के साथ ही अन्य थानों द्वारा 241 वांछित व्यक्तियों को गिरफ्तार कर संबंधित थाने को सुपुर्द किया गया है। वांछित अपराधियों में से 440 व्यक्तियों की मृत्यु की जानकारी प्राप्त हुई है एवं 256 का न्यायालय द्वारा वारंट निरस्त कर दिया गया है।

लाठर नेे बताया कि अभियान के तहत सर्वाधिक 4108 स्थाई वारंटी, 1507 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 445 मफ़रूर (धारा 299 में वांछित), 398 गिरफ्तारी वारंटी, 69 उद्घोषित अपराधी एवं 6 पैरोल से फरार अपराधी पकड़े गए हैं। पकड़े गए अपराधियों में से 6 व्यक्ति 25 लाख से अधिक नकबजनी के है। इनमें से एक उद्घोषित अपराधी, 3 मफ़रूर एवं 2 स्थाई वारंटी शामिल है।

इसी प्रकार अन्य सामान्य अपराधों के कुल 5356 व्यक्तियों में से 3813 स्थाई वारंटी, 938 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 373 गिरफ्तारी वारंटी, 210 मफ़रूर, 18 उद्घोषित एवं 4 पैरोल से फरार अपराधी शामिल है। अवैध फायर आर्मस प्रकरणों के कुल गिरफ्तार 80 व्यक्तियों में से 62 स्थाई वारंटी 14 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी 3 गिरफ्तारी वारंटी एवं एक उद्घोषित अपराधी शामिल है।

महानिदेशक ने बताया कि अवैध मादक अपराध पदार्थ प्रकरणों के गिरफ्तार 148 व्यक्तियों में 66 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 43 स्थाई वारंटी, 38 मफरूर एवं एक गिरफ्तारी वारंटी शामिल है। डकैती के मामलों में गिरफ्तार 53 व्यक्तियों में से 25 स्थाई वारंटी, 16 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 9 मफरूर एवं 1-1 उद्घोषित अपराधी, गिरफ्तारी वारंटी व पैरोल से फरार अपराधी शामिल है। दहेज हत्या के मामलों में गिरफ्तार 13 व्यक्तियों में 11 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित व 2 मफरूर अपराधी शामिल है।

लाठर ने बताया कि बलात्कार व पॉक्सो प्रकरणों में पकड़े गए 197 व्यक्तियों में से 137 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 33 स्थायी वारंटी, 15 मफरूर, 9 उद्घोषित अपराधी एवं 3 गिरफ्तारी वारंटी शामिल है। मॉब लिंचिंग के 4 प्रकरणों में से 2 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी व 2 मफरूर शामिल है। राज्यकर्मी पर हमला, मारपीट व सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामलों में पकड़े गए 145 व्यक्तियों में 66 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 33 स्थाई वारंटी, 29 उद्घोषित, अपराधी, 14 मफरूर एवं 3 गिरफ्तारी वारंटी शामिल हैं।

महानिदेषक ने बताया कि सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की घटनाओं में शामिल 45 पकड़े गए व्यक्तियों में 36 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 8 स्थाई वारंटी एवं एक मफरूर शामिल है। इसी प्रकार हत्या के मामलों में पकड़े गए 258 वांछित व्यक्तियों में 111 मफरूर, 69 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 65 स्थाई वारंटी, 7 गिरफ्तारी वारंटी, 5 उद्घोषित अपराधी एवं एक पैरोल से फरार अपराधी शामिल है। हत्या के प्रयास के मामलों में पकड़े गए 228 व्यक्तियों में 152 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 40 मफरूर, 24 स्थाई वारंटी, 7 गिरफ्तारी वारंटी एवं 5 उद्घोषित अपराधी शामिल है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement