Punjabis started Inquilab, they got honest CM - Arvind Kejriwal -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 1, 2022 7:56 am
Location
Advertisement

पंजाबियों ने 'इंकलाब' की शुरुआत की, उन्हें 'ईमानदार सीएम' मिला - अरविंद केजरीवाल

khaskhabar.com : रविवार, 13 मार्च 2022 8:32 PM (IST)
पंजाबियों ने 'इंकलाब' की शुरुआत की, उन्हें 'ईमानदार सीएम' मिला - अरविंद केजरीवाल
अमृतसर । पंजाब में आप की पहली शानदार जीत के महज तीन दिन बाद रविवार को पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल ने मुख्यमंत्री पद के लिए मनोनीत मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ शहर के सबसे पवित्र सिख और हिंदू धर्मस्थलों पर जाकर पूजा की। बाद में विजय रोड शो में पार्टी को प्रचंड जीत दिलाने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि तीन करोड़ पंजाबियों ने एक 'इंकलाब' (क्रांति) की शुरुआत की है, दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि इतने सालों के बाद पहली बार पंजाब को एक ईमानदार मुख्यमंत्री मिला है।

उन्होंने कहा, "तुसी कमाल कर दिता (आपने चमत्कार किया)। आई लव यू पंजाब। पूरी दुनिया जानती है कि पंजाबी क्रांति लाते हैं, लेकिन फिर भी विश्वास नहीं कर सकते थे कि यह राज्य ऐसा अविश्वसनीय 'इंकलाब' स्वीप कर सकता है। सभी हार गए, सुखबीर जी, प्रकाश सिंह बादल जी, मनप्रीत बादल हारे, चन्नी दोनों सीटों पर हारे, मजीठिया जी, नवजोत सिंह सिद्धू जी ने भी हार का स्वाद चखा।"

उन्होंने कहा, "अब सारा पैसा पंजाब और उसके लोगों पर खर्च किया जाएगा। हम सभी गारंटी को पूरा करेंगे और 'रंगला' या खुशहाल पंजाब बनाएंगे।"

रोड शो विभिन्न क्षेत्रों से होकर गुजरा और विधायकों के नेतृत्व में आप समर्थकों ने केजरीवाल और मान दोनों पर फूल बरसाए। दोनों एक खुले वाहन में खड़े थे।

हजारों समर्थकों में से कई तिरंगा और पार्टी का झंडा पकड़े हुए थे। इनमें बुजुर्ग और महिलाएं शामिल थे। उन्होंने तालियों के बीच आप नेताओं का अभिवादन किया।

इससे पहले, केजरीवाल और मान ने स्वर्ण मंदिर और दुर्गियाना मंदिर में मत्था टेका और पंजाब की समृद्धि व शांति के लिए प्रार्थना की।

उन्होंने स्वर्ण मंदिर परिसर के पास जलियांवाला बाग स्मारक पर पुष्पांजलि भी अर्पित की।

पार्टी नेता मनीष सिसोदिया और राघव चड्ढा ने अमृतसर के मेयर करमजीत सिंह रिंटू की मौजूदगी में रोड शो किया, जिसमें अमृतसर नगर निगम के कम से कम 16 पार्षद शामिल हुए।

आप ने मौजूदा और पूर्व मुख्यमंत्रियों जैसे चरणजीत सिंह चन्नी, प्रकाश सिंह बादल और अमरिंदर सिंह जैसे दिग्गजों को हराकर कांग्रेस और शिअद-बसपा गठबंधन का सफाया कर दिया है।

पार्टी सूत्रों ने बताया कि मनोनीत मुख्यमंत्री मान बुधवार को अकेले शपथ लेंगे।

एक सूत्र ने आईएएनएस को बताया कि उनके मंत्रिमंडल का शपथ समारोह बाद में होगा, जिसमें 17 सदस्य शामिल हो सकते हैं।

आप ने पंजाब में 92 सीटें जीती हैं। उसका वोट शेयर 2017 में 20 था जो बढ़कर 42.4 प्रतिशत हो गया।

एक दिन पहले मान ने यहां राजभवन में राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया।

वह 16 मार्च को दोपहर 12.30 बजे शहीद भगत सिंह नगर जिले के स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के पैतृक गांव खटकर कलां में पंजाब के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के लिए तैयार हैं।

शनिवार को राजभवन के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए मान ने कहा था, "हमने राज्यपाल को शपथ ग्रहण समारोह के स्थान और समय के बारे में भी बताया। मैंने पंजाब के सभी लोगों को इस ऐतिहासिक अवसर पर खटकर कलां आने के लिए आमंत्रित किया है। 16 मार्च को हम और हमारे मंत्री ही नहीं, पंजाब के सभी लोग पंजाब को फिर से समृद्ध बनाने की शपथ लेंगे। हम सब मिलकर पंजाब को समृद्ध बनाएंगे।"

नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों को दिए निर्देश में मान ने उन्हें अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में अधिक से अधिक समय बिताने के लिए कहा, न कि राजधानी चंडीगढ़ में और न ही कैबिनेट बर्थ के लिए लालायित रहें।

आप विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद मान ने कहा था, "हमें उन सभी जगहों के लिए काम करना होगा, जहां हम वोट मांगने गए थे। सभी विधायकों को उन क्षेत्रों में काम करना चाहिए, जहां से वे चुने गए हैं, न कि केवल चंडीगढ़ में रहें।"

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement