Punjab Police arrests 3 intoxicant smugglers from Indo Pak border-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 27, 2021 4:32 am
Location
Advertisement

पंजाब पुलिस ने भारत-पाक सीमा से 3 नशा तस्करों को काबू किया

khaskhabar.com : रविवार, 19 नवम्बर 2017 3:53 PM (IST)
पंजाब पुलिस ने भारत-पाक सीमा से 3 नशा तस्करों को काबू किया
फिरोजपुर/चंडीगढ़। नशों के व्यापार और तस्करी के विरुद्ध अपनी मुहिम जारी रखते हुए पंजाब पुलिस ने फिऱोज़पुर जि़ले के सीमावर्ती क्षेत्र से नशीले पदार्थों की तस्करी करने वाले 3 स्मग्लरों को गिरफ़्तार किया है जिनमें गुरदीप सिंह पुत्र जरनैल सिंह, महावीर सिंह उर्फ तोता और सुखबीर सिंह उर्फ सोनी पुत्र निरवैर सिंह को काउन्टर इंटेलिजेंस फिऱोज़पुर की टीम द्वारा काबू किया गया है परन्तु मुख्य संदिग्ध बदनाम तस्कर मनजीत सिंह उर्फ मन्ना भागने में कामयाब हो गया। पुलिस की विशेष टीम द्वारा मुख्य दोषी होने के कारण मन्ने की सक्रियता से खोज जारी है।

यह जानकारी देते हुए पंजाब पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि राज्य में नशों की अकेले सबसे बड़ी खेप को काबू करने में पुलिस और सीमा सुरक्षा बल (बी.एस.एफ) के साझे ऑपरेशन से अंजाम तक पहुँचाया गया।

प्रवक्ता के अनुसार डी.जी.पी. इंटेलिजेंस दिनकर गुप्ता और आई.जी. कांउटर इंटेलिजेंस अमित प्रसाद के निर्देशों के अन्तर्गत काउन्टर इंटेलिजेंस की टीम ने नरिन्दर सिंह ए.आई.जी फिऱोज़पुर के नेतृत्व में सरहदी रोड चौंक, नज़दीक बस अड्डा फिऱोज़पुर में विशेष नाकाबंदी की हुई थी। पुलिस को सूचना मिली थी कि तस्कर मन्ना और उसका भाई गांव गट्टी राजो के और बी.एस.एफ की चौकी ‘सतपाल खंबा’ नंबर 187/11 के क्षेत्र में भारत-पाक सरहद की बाड़ के नज़दीक हेरोइन और गोला बारूद की बड़ी खेप प्राप्त करने की कोशिश करेंगे।
कार्यवाही संबंधित जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी तस्कर नवाब अपने साथियों सहित बाड़ के ऊपर से नशों की खेप फेंक रहा था जिस पर बी.एस.एफ. ने ललकार कर रोकने की कोशिश की परन्तु इन तस्करों ने गोलियाँ चलानी शुरू कर दीं जिस कारण बी.एस.एफ. जवानों ने भी बदले में जवाब दिया। इस दौरान पाकिस्तानी तस्कर खेप छोड़ कर भाग निकले परन्तु यहां से यह खेप हासिल करने पहुंचे 3 संदिग्ध भारतीय तस्करों को पुलिस ने पकड़ लिया।

तस्करों के पास से काउन्टर इंटेलिजेंस टीम को एक सफ़ेद आई-20 कार, 22 पैकेट हेरोइन, एक 9 एम.एम. का पिस्तौल, एक मैगज़ीन सहित 11 जि़ंदा कारतूस और एक पाकिस्तानी सिमकार्ड बरामद हुआ है। इस संबंधी मुकद्दमा नंबर 335, तारीख़ 18-11-17 को एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत धारा 21/25 /29 /61 /85, हथियार कानून की धारा 25/54/59 और सूचना तकनीक कानून की धारा 66-डी/66-1 के अधीन थाना सदर फिऱोज़पुर में दर्ज कर लिया है और छानबीन जारी है।

पंजाब पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि काबू किये गए तीनों ही स्मगलरों का अपराधिक पृष्ठभूमि रही है। मनजीत सिंह उर्फ मन्ना पर 50,000 रुपए की जाली करैंसी रखने का केस दर्ज है। महांवीर सिंह उर्फ तोता से 15 किलो हेरोइन की बरामदगी होने के कारण एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत थाना मकबूलपुरा में मामला दर्ज है जिसमें उसको 15 साल की जेल हो चुकी है। इससे पहले भी वर्ष 2008 में महाबीर के विरुद्ध थाना लोपोके जि़ला अमृतसर में 15 किलो हेरोइन की बरामदगी होने के कारण एन.डी.पी.एस. एक्ट के अंतर्गत 15 वर्ष की कैद हुई है और वह आज कल फरीदकोट जेल से 42 दिनों की पैरोल पर आया हुआ था। इसके अलावा सुखबीर सिंह पर 2003 में 2 किलो हेरोइन की बरामदगी के कारण थाना डी.आर.आई. दिल्ली में एन.डी.पी.एस. एक्ट के अधीन मामला दर्ज है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement