Punjab CM hits out at Congress and BJP for robbing the country-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 8, 2022 4:26 pm
Location
Advertisement

पंजाब के मुख्यमंत्री ने 'देश को लूटने' के लिए कांग्रेस और भाजपा पर साधा निशाना

khaskhabar.com : शनिवार, 11 जून 2022 9:56 PM (IST)
पंजाब के मुख्यमंत्री ने 'देश को लूटने' के लिए कांग्रेस और भाजपा पर साधा निशाना
हमीरपुर (हिमाचल प्रदेश) । पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने 'देश को लूटने' के लिए कांग्रेस और भाजपा की आलोचना करते हुए शनिवार को कहा कि अंग्रेजों ने 200 साल तक भारत को गुलाम बनाया था, लेकिन आजादी के बाद दोनों पार्टियों ने लोगों को गुलाम बना दिया। यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ने जनता की संपत्ति को लूटने के लिए एक-दूसरे के साथ 'मैत्रीपूर्ण मैच' (एक-दूसरे के हितों को देखकर चलना) खेला। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों की तरह उन्होंने भी लोगों से उनके अधिकार छीन लिए, लेकिन लोगों के पास उन्हें बार-बार चुनने के अलावा और कोई विकल्प नहीं था।

मान ने कहा, "लेकिन अब आप के रूप में लोगों को देश में बदलाव का उत्प्रेरक मिल गया है और लोग आम आदमी पार्टी (आप) को चुनकर दोनों पार्टियों को खारिज कर रहे हैं।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली से शुरू हुई बदलाव की हवा ने पंजाब को घेर लिया है और अब यह पूरे देश में दस्तक देने को तैयार है।

उन्होंने कहा कि आप हिमाचल प्रदेश में तूफान लाने के लिए तैयार है और कांग्रेस और भाजपा को पहाड़ी राज्य से बाहर कर दिया जाएगा।

मान ने लोगों से आग्रह किया कि वे एक नए और समृद्ध हिमाचल के निर्माण के लिए दोनों पार्टियों (कांग्रेस और भाजपा) को वहां से उखाड़ फेंके।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 50 साल की उम्र पार करने के बाद भी नेहरू-गांधी परिवार के वंशज अभी भी युवा नेता हैं।

उन्होंने कहा कि 37 वर्ष की आयु पार करने के बाद एक युवा को सरकारी नौकरी पाने से रोक दिया जाता है, लेकिन दूसरी ओर एक 94 वर्षीय व्यक्ति विधायक या सांसद बनने के लिए चुनाव लड़ता है जो पूरी तरह से अनुचित है।

मान ने कहा कि आप देश में बदलाव की धुरी है, जिसका प्रतिबिंब यह है कि पंजाब में 70 से ज्यादा विधायक 35 साल से कम उम्र के हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जहां पिछली सरकारों ने स्कूलों को मिड-डे मील बिल्डिंग में बदल दिया था, वहीं दिल्ली और पंजाब की आप सरकारों ने उन्हें शिक्षा के मंदिर में तब्दील कर दिया है, जहां से नौकरी पाने वाले नहीं बल्कि नौकरी देने वाले तैयार किए जा रहे हैं।

उन्होंने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को सभी बीमारियों की रामबाण दवा बताते हुए कहा कि यह एक शक्तिशाली उपकरण है और यही लोगों के जीवन को बदल सकता है।

मान ने कहा कि लोगों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के जरिए आम आदमी को सशक्त बनाने के लिए आप का समर्थन करना चाहिए जैसा कि दिल्ली और पंजाब में किया जा रहा है।

हिमाचल प्रदेश के लोगों के साथ भावनात्मक जुड़ाव स्थापित करते हुए मुख्यमंत्री ने उन दिनों को याद किया जब उन्होंने राज्य का दौरा किया था।

उन्होंने कहा कि देवभूमि हिमाचल प्रदेश एक धन्य भूमि है और वह यहां आकर वह खुद को भाग्यशाली मान रहे हैं।

पंजाब के सीएम मान ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के युवा बहुत प्रतिभाशाली हैं और अब समय आ गया है कि राज्य की प्रगति और यहां के लोगों की समृद्धि के लिए उनकी अपार क्षमता का दोहन किया जाए।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement