Police patrol system will be made effective-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 21, 2019 1:46 am
Location
Advertisement

पुलिस गश्त व्यवस्था को बनाया जायेगा प्रभावी - डीजीपी

khaskhabar.com : शनिवार, 12 जनवरी 2019 5:09 PM (IST)
पुलिस गश्त व्यवस्था को बनाया जायेगा प्रभावी - डीजीपी
जयपुर। प्रदेश के महानिदेशक पुलिस कपिल गर्ग ने एक आदेश जारी कर जिला मुख्यालयों, नगरों व बडे कस्बों में पुलिस गश्त व्यवस्था को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर प्रक्रिया निर्धारित की है। रात्रि पुलिस गश्त व्यवस्था के लिए 25 जनवरी तक सभी तैयारिया पूर्ण कर इसे 1 फरवरी से लागू कर दिया जायेगा।
निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार प्रत्येक थाने के क्षेत्र को आवश्यकता अनुसार विभिन्न रात्रि गश्त बीट में विभाजित किया जायेगा। प्रत्येक रात्रि गश्त बीट के लिए एक रात्रि गश्त
बीट पुस्तिका सन्धारित कर क्षेत्र के हिस्ट्रीशीटर, असामाजिक तत्व, सक्रिय वांछित अपराधियों, धार्मिक स्थलों आदि की जानकारी अकिंत होगी। रात्रि गश्त व्यवस्था में स्थानीय नागरिकों, चौकीदारों, सिक्यूरिटी गार्डस आदि का सहयोग लिया जायेगा। रात्रि गश्त बीट में 4 या अधिक चिन्हित स्थानों पर चैकिंग पुस्तिका रखी जायेगी। गश्ती दल इस पुस्तिका में आवश्यक सूचनाएं अकिंत करेगा व गश्ती दल को चैक करने वाले अधिकारी भी इस पुस्तिका में अपने हस्ताक्षर करेगें।
रात्रि गश्त बीट में गश्ती दल भेजने के साथ ही दलों को यथासंभव अपना मार्ग बदल-बदल कर निर्धारित बीट में लगातार गश्त करने निर्देश दिये गये हैं। गश्ती दलों को बीट में मिलने वाले संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ, आवश्यकतानुसार तलाशी व क्षेत्र में पड़ने वाले हिस्ट्रीशीटरों की चैकिंग, धार्मिक स्थलों की चैकिंग करने के साथ ही गश्त बीट पुस्तिका में इसका उल्लेख करने के निर्देश दिये गए हैं।
आदेश के मुताबिक गश्त का समय समाप्त होने पर सभी चैक पुस्तिकाएं डयूटी अधिकारी द्वारा थाने में एकत्रित की जायेगी। गश्त के दौरान पायी गयी विशेष परिस्थितियों के उल्लेख सहित एक रिपोर्ट प्रतिदिन जिला पुलिस अधीक्षक के समक्ष प्रस्तुत की जायेगी। चैकिंग अधिकारी पुलिस बल
की सूची के साथ रात्रि में विभिन्न स्थानों पर रखी जाने वाली पुस्तिकाओं की सूचना भी रात्रि में थाने पर मौजूद ड्यूटी अधिकारी द्वारा उपलब्ध करायेंगे। यदाकदा रात्रि गश्त का समय परिवर्तित कर अपराधियों एवं असामाजिक तत्वों पर प्रभावी नियंत्रण रखा जाएगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement