Poisonous liquor has killed 113 people in Punjab, more than a thousand people arrested-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 21, 2020 8:34 pm
Location
Advertisement

पंजाब में जहरीली शराब से अब तक 121 लोगों की मौत, एक हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तार

khaskhabar.com : शुक्रवार, 07 अगस्त 2020 2:16 PM (IST)
पंजाब में जहरीली शराब से अब तक 121 लोगों की मौत, एक हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तार
चंडीगढ़, । राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान 197 नये मामलों और 135 और गिरफ्तारियों के साथ पंजाब पुलिस ने अवैध शराब माफिया के खिलाफ अपनी राज्य स्तरीय मुहिम के हिस्से के तौर पर कई माड्यूलों का पर्दाफाश किया है, जबकि जहरीली शराब के साथ घटी दुखद घटना के मामले में अन्य संदिग्ध व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए घेरा और मजबूत कर दिया है।
इस घटना के मुख्य मुलजिम राजीव जोशी की मिलर गंज, लुधियाना स्थित दुकान ध्गोदाम से कुल 284 ड्रम मीथेनौल जब्त किये गए हैं जिसने तीन ड्रम शराब तस्करों को बेचे थे जिसके कारण राज्य के तीन जिलों में मौतों का सिलसिला शुरू हुआ था। इस घटना में मरने वालों की संख्या 121 हो गई है।
डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि इस घटना की जांच जारी है और मुकद्मों की तेजी से जांच मुकम्मल करने के लिए दो विशेष जांच टीमें (एसआईटी) गठित की जा चुकीं हैं, और पुलिस की तरफ से अवैध शराब के कारोबार को खत्म करने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के आदेशों के अनुसार अलग अलग जिलों में तालमेल स्वरूप छापेमारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों के दौरान अलग-अलग स्थानों पर छापेमारी करते हुए 1528 अवैध शराब, 7450 किलोग्राम लाहन और 962 लीटर तस्करी की शराब बरामद की गई है। उन्होंने बताया कि कुल दर्ज किये गए 197 मामलों में 11 देसी दारू की भट्टियाँ भी पकड़ी गई हैं। डीजीपी ने बताया कि अमृतसर पुलिस ने सीनियर अधिकारियों द्वारा निगरानी के दौरान एक विशेष मुहिम के दौरान भारी मात्रा में लाहन बरामद की है।
गुप्ता ने बताया कि जहरीली शराब के कारण घटे दुखांत के मद्देनजर शुरू की गई छापेमारी के दौरान अब तक कुल 1489 मुकदमे दर्ज किये गए हैं और 1034 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। इस राज्य स्तरीय छापेमारी के दौरान कुल 29,422 लीटर नाजायज शराब, 12,599 लीटर जायज शराब और 5,82,406 किलोग्राम लाहन समेत 20,960 लीटर अल्कोहल ध् सपिर्ट बरामद की गई है और 73 चलती देसी दारू की भट्टी पकड़ी गई हैं।
डीजीपी ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुसार छापेमारी करने वाली टीमें आबकारी विभाग के साथ तालमेल के कारण जुड़ी हुई हैं और यह छापे आने वाले दिनों में भी जारी रहेंगे जिससे नशीले पदार्थों, नाजायज शराब तैयार करने या ऐसे व्यापार में शामिल हो, को गिरफ्तार किया जा सके और कानून के अनुसार उनके खि़लाफ कार्यवाही की जा सके।
इस दौरान, मुख्यमंत्री पंजाब जहरीली शराब के साथ घटे दुखांत संबंधी मामलों की प्रगति का रोजाना जायजा ले रहे हैं और कल शुक्रवार को वह तरन तारन में कुछ पीडि़त लोगों के परिवारों के साथ मुलाकात भी करेंगे। उन्होंने डीजीपी को हिदायत की है कि वह सभी मामलों में सीधे तौर पर शामिल पाये गए लोगों के खि़लाफ कत्ल केस दर्ज करें।
------

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement