Permanent preparation of easy election for the Divas: Rigveda Thakur-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 18, 2021 1:46 am
Location
Advertisement

दिव्यांगों के लिए ‘सुलभ चुनाव’ बनाने की पक्की तैयारी : ऋग्वेद ठाकुर

khaskhabar.com : रविवार, 31 मार्च 2019 4:45 PM (IST)
दिव्यांगों के लिए ‘सुलभ चुनाव’ बनाने की पक्की तैयारी : ऋग्वेद ठाकुर
मण्डी। मण्डी जिला प्रशासन लोकसभा चुनावों में दिव्यांगजनों की भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रभावी कदम उठा रहा है। चुनाव आयोग की ‘सुलभ चुनाव’ और ‘कोई मतदाता मतदान से वंचित न रह जाए’ की थीम पर चुनावी व्यवस्था की तैयारी में जुटा जिला प्रशासन दिव्यांगजनों को मतदान केन्द्रों पर विशेष सुविधाएं मुहैया करवाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने निर्वाचन प्रक्रिया को मतदाताओं के अनुकूल और दिव्यांगजनों की सुविधाओं का ध्यान रखते हुए चुनाव सम्पन्न कराने को लेकर गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक ली। उन्होंने कहा कि जिला के सभी दिव्यांगजन मतदान में भाग लेकर सुगमता से अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें, इसके लिए सभी जरूरी प्रबंध किए जा रहे हैं।

दृष्टिबाधित मतदाताओं के लिए ईवीएम पर ब्रेल साइनेज

ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि जिला में मतदान केंद्रों पर दृष्टिबाधित मतदाताओं के लिए ईवीएम पर ब्रेल लिपि मुद्रित साइनेज की व्यवस्था होगी। जिले के प्रत्येक मतदान केंद्र पर डमी बैलेट शीट उपलब्ध होगी, जिसकी मदद से वे किस उम्मीदवार को अपना वोट देना चाहते हैं, डमी बैलेट शीट से जान सकेंगे। वे ईवीएम का बटन दबाते ही बीप की आवाज से वोट डालने का पता लगा लेंगे। इसके अतिरिक्त श्रवण बाधितों को ईवीएम का बटन दबाते ही लाईट संकेतक से वोट डालने का पता लग जाएगा। उनके लिए मतदान केंद्रों पर विजुअल संकेतक लगाए जाएंगे।

गाड़ी और व्हील चेयर की भी होगी व्यवस्था

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि दिव्यांग मतदाताओं के लिए मतदान केन्द्रों में व्हील चेयर, रेलिंग, रैंप आदि की व्यवस्थाएं की गई हैं। दिव्यांगजनों को मतदान केन्द्र तक लाने एवं वापिस घर छोड़ने के लिए प्रशासन वाहन सुविधा उपलब्ध करवाएगा।

जिला में हैं 16340 दिव्यांग मतदाता

निर्वाचन कार्यालय मण्डी के आंकड़ों के मुताबिक जिला में कुल 16340 दिव्यांग मतदाता हैं। चुनाव में मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए दिव्यांगजनों की भागीदारी तय बनाई जा रही है। प्रशासन ने मतदान केंद्रों में दिव्यांगों के लिए विशेष सुविधा के प्रबंध किए गए हैं।

इस बार चुनावों में ‘एसेसिबिलिटी पर्यवेक्षक’

ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में दिव्यांगजनों की मजबूत सहभागिता के लिए चुनाव आयोग ने एसेसिबिलिटी पर्यवेक्षक भी बनाया है। मण्डी निर्वाचन क्षेत्र के लिए मंडलायुक्त मण्डी को एसेसिबिलिटी पर्यवेक्षक बनाया गया है। वे लोकसभा निर्वाचन में दिव्यांग मतदाताओं को मतदान के दौरान दी जा रही सुविधाओं को देखेंगे और समय-समय पर समीक्षा भी करेंगे।

‘सप्रेम’ जान रहे दिव्यांगों की जरूरतें


उपायुक्त ने कहा कि मतदान को लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन ने ‘सप्रेम’ यानि ‘संपर्क प्रत्येक मतदाता’ अभियान छेड़ा है। इसके तहत प्रशासन की टीमें घर घर जाकर पंजीकरण से छूट गए पात्र मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज करने में लगी हैं। इसके साथ ही दिव्यांगों एवं बुजुर्गों को मतदान के लिए प्रशासन की ओर से किस प्रकार की मदद की जरूरत है, इसका भी पता लगाया जा रहा है, ताकि उनके लिए समय रहते समुचित प्रबंध किए जा सकेें और वे सुगमता से वोट डाल सकें।

बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग, आईएउस प्रोबेशनर निवेदिता नेगी, निर्वाचन विभाग के अधिकारी, दिव्यांगों के लिए काम रही विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement