Organized Regional Media Workshop Conversation in Jhunjhunu-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 12, 2019 11:31 am
Location
Advertisement

झुंझुनूं में क्षेत्रीय मीडिया कार्यशाला वार्तालाप आयोजित

khaskhabar.com : रविवार, 03 मार्च 2019 4:49 PM (IST)
झुंझुनूं में क्षेत्रीय मीडिया कार्यशाला वार्तालाप आयोजित
झुंझुनूं । भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय के पत्र सूचना कार्यालय, जयपुर की तरफ से झुंझुनूं में क्षेत्रीय मीडिया कार्यशाला ‘‘वार्तालाप’’ का आयोजन किया गया। कार्यशाला में झुंझुनूं में कार्यरत 75 से अधिक मीडियाकर्मियों ने भाग लिया। वार्तालाप का उद्देश्य क्षेत्रीय मीडिया के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर जिला स्तर पर कार्य कर रहे पत्रकारों को केंद्र सरकार की योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी देना था।

कार्यशाला का उद्घाटन झुंझुनूं की सांसद संतोष अहलावत ने किया। इस अवसर पर संतोष अहलावत ने कहा कि मीडिया सकारात्मक रूख अपनाते हुए सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं का प्रचार-प्रसार अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक करें। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार गांवों और किसानों की सर्वाधिक चिंता करती है तथा उन्हें केंद्र में रखकर योजनाओं का निर्माण करती है। सरकार को देश की गरिमा और सामाजिक सरोकारों की भी चिंता है। झुंझुनूं को सैनिकों का जिला बताते हुए उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों की शहादत पर हमें गर्व है।

कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में पत्र सूचना कार्यालय जयपुर की अपर महानिदेशक डॉ. प्रज्ञा पालीवाल गौड ने कार्यालय की गतिविधियों का ब्यौरा देने के साथ ही वार्तालाप के उद्देश्यों पर प्रस्तुतीकरण दिया। स्वच्छ भारत मिशन पर कार्यशाला के पहले तकनीकी सत्र में जिला परिषद झुंझुनूं की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री प्रतिष्ठा पिलानिया ने मीडिया से आग्रह किया कि वे स्वच्छता को लेकर आम लोगों के व्यहवार में परिवर्तन लाने में प्रशासन का सहयोग करें। उन्होंने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के लिये विश्व बैंक की ओर से एक करोड 11 लाख की सहायता दी गयी है।


उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. नरोत्तम जांगीड ने आयुष्मान भारत योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ करना है। इसी सत्र में झुंझुनूं की बाल विकास परियोजना अधिकारी ज्योति रेपस्वाल ने राष्ट्रीय पोषण मिशन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि बच्चों और महिलाओं के समुचित पोषण पर प्रारम्भ से ही ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि झुंझुनूं जिले में पोषण मिशन के तहत विभिन्न घटकों में 2 से 3 प्रतिशत कमी लाने का लक्ष्य है।

कार्यशाला के समापन सत्र में पत्र सूचना कार्यालय और मीडियाकर्मियों के बीच बेहतर समन्वय को लेकर चर्चा की गई। साथ ही पत्रकारों के महत्वपूर्ण सुझावों पर विचार विमर्ष किया गया। कार्यशाला का संचालन पत्र सूचना कार्यालय, जयपुर के निदेशक प्रेम भारती ने किया।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement