opposition do not politics in unnao case said Sadhvi Niranjan Jyoti-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 19, 2019 5:55 am
Location
Advertisement

उन्नाव दुष्कर्म मामले पर राजनीति न करे विपक्ष : साध्वी

khaskhabar.com : शनिवार, 14 अप्रैल 2018 08:57 AM (IST)
उन्नाव दुष्कर्म मामले पर राजनीति न करे विपक्ष : साध्वी
उन्नाव/फतेहपुर। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले की सांसद एवं केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने उन्नाव रेप मामले में कहा कि हमारी सरकार कानून का पालन कर रही है। किसी भी मामले में हो, कोई भी हो, उसे छोड़ा नहीं जाएगा और कल राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी कह दिया है की गुंडागर्दी करने वाला कोई भी व्यक्ति बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह किसी भी दल का हो।

उन्होंने कहा कि सरकार ने तत्परता से एसआईटी गठित किया और सरकार ने सीबीआई के लिए भी कह दिया है। उन्होने कहा कि जो लोग इस मामले को तूल दे रहे हैं, वह सिर्फ राजनीतिक रोटियॉ सेंकने का काम कर रहे है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश व केन्द्र की भाजपा सरकार बेटियों के सम्मान के प्रति गंभीर है और किसी भी कीमत पर गलत नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि मुझे याद है मायावती के कार्यकाल में बांदा रेप कांड हुआ था जिसमें 10 दिन बाद एफआईआर दर्ज की गयी थी। महिला सुरक्षा के मामले पर सभी को एक साथ खड़ा होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री ने ओवैसी द्वारा प्रधानमंत्री के खिलाफ दिए गए बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह हैदराबाद देखें जहां इनके लोग क्या-क्या कर रहे हैं। उन्होंने सपाध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा बीजेपी कांटा बो रही वाले बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह अमन की बात कर रहे हैं। जबकि उनकी सरकार से अधिक दंगे कभी नहीं हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकारों ने देश एवं प्रदेश में हमेशा अमन कायम करने का काम किया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा के बढ़ते जनसमर्थन व विपक्ष का एक के बाद एक स्थान पर सूपड़ा साफ होने से विपक्ष बौखला गया है। उन्होंने कहा कि जहां कांग्रेस गिने-चुने राज्यों में ही सिमट कर रह गयी है। वहीं कम्युनिस्ट सिर्फ एक प्रांत में बचा है। कांग्रेस कर्नाटक से भी साफ हो रही है। उन्होंने कहा कि विपक्ष के बयान हताशा व निराशा का प्रतीक है।

-- आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement