Now more than 21 lakh families in rural areas of Rajasthan have the facility of Har Ghar Nal Connection-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 19, 2021 5:57 am
Location
Advertisement

राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में अब 21 लाख से अधिक परिवारों को ‘हर घर नल कनेक्शन‘ की सुविधा

khaskhabar.com : बुधवार, 15 सितम्बर 2021 4:30 PM (IST)
राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में अब 21 लाख से अधिक परिवारों को ‘हर घर नल कनेक्शन‘ की सुविधा
जयपुर। राजस्थान के सभी ग्रामीण परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' की सुविधा मुहैया कराने की दिशा में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा योजनाबद्ध तरीके से सघन प्रयास किए जा रहे हैं। राज्य में 'हर घर नल कनेक्शन' के माध्यम से पेयजल आपूर्ति वाले ग्रामीण परिवारों की संख्या अब 21 लाख के पार पहुंच गई है।

यह जानकारी देते हुए जलदाय मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला ने बताया कि प्रदेश में मरूस्थल, एक गांव से दूसरे गांव व ढाणियों के बीच की भौगोलिक दूरियां, छितराई हुई आबादी, भूजल की कमी और क्वालिटी की समस्या जैसी अति विषम परिस्थितियों के बावजूद राज्य सरकार जल जीवन मिशन (जेजेएम) के तहत वर्ष 2024 तक सभी ग्रामीण परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' देने के लिए प्रतिबद्ध है।


जेजेएम में वर्तमान राज्य सरकार द्वारा सवा नौ लाख से अधिक 'हर घर नल कनेक्शन'

डॉ. कल्ला ने बताया कि जेजेएम की शुरूआत से पहले राज्य में 11 लाख 74 हजार 131 ग्रामीण परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' की सुविधा मिल रही थी। वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल में अगस्त 2019 में जेजेएम की शुरूआत के बाद से अब तक 9 लाख 26 हजार 858 ग्रामीण परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' की सौगात दी जा चुकी है। इस प्रकार गत दिवस (मंगलवार, 14 सितम्बर 2021) तक प्रदेश के एक करोड़ एक लाख 32 हजार 274 परिवारों में से 21 लाख 989 परिवारों को घर बैठे नल के माध्यम से पेयजल आपूर्ति से जोड़ दिया गया है। इसके साथ ही प्रदेश में 666 गांवों और 69 ग्राम पंचायतों के सभी परिवारों तथा 467 अन्य गांवों में 90 प्रतिशत या उससे अधिक परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' की सुविधा उपलब्ध कराई जा चुकी है।

27 हजार 597 गांवों में 70 लाख 'हर घर नल कनेक्शन' की स्वीकृतियां

डॉ. कल्ला ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में 30 लाख परिवारों को 'हर घर नल कनेक्शन' की सुविधा से जोड़ने के लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें रेग्यूलर विंग के तहत 18 लाख और मेजर प्रोजेक्ट्स में 12 लाख 'हर घर नल कनेक्शन' का लक्ष्य शामिल है। उन्होंने बताया कि गत फरवरी माह से प्रदेश में राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति (एसएलएसएससी) की 8 बैठकों आयोजित की गई है। अब तक 102 वृहद पेयजल परियोजनाओं और 7773 मल्टी एवं सिंगल विलेज परियोजनाओं सहित कुल 7875 ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं को मंजूरी दी जा चुकी है। इन योजनाओं से प्रदेश के 27 हजार 597 गांवों में 70 लाख 24 हजार 541 'हर घर नल कनेक्शन' की स्वीकृतियां उपलब्ध है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement