Nadda gave the mantra of victory, told the workers make direct access from house to house-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 20, 2022 10:26 am
Location
Advertisement

नड्डा ने दिया जीत का मंत्र, कार्यकताओं से बोले 'घर-घर बनाएं सीधी पहुंच'

khaskhabar.com : शुक्रवार, 21 जनवरी 2022 11:12 PM (IST)
नड्डा ने दिया जीत का मंत्र, कार्यकताओं से बोले 'घर-घर बनाएं सीधी पहुंच'
आगरा। भारतीय जनता पार्टी के (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के लोगों को जीत का मंत्र दिया। कहा कि प्रचार का नया माध्यम अपनाना है, तो घर-घर भी सीधे पहुंच बनानी है। नड्डा ने शुक्रवार को आगरा से अलीगढ़ विधानसभा तक कि सीटों का गणित कार्यकर्ताओं को समझाए। पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि चुनाव का रण आ चुका है, हमें विपक्ष की हर गतिविधि पर पैनी नजर रखना होगा। सभी को मजबूत रहना होगा। पन्ना प्रमुख और बूथ अध्यक्ष की विशेष महत्ता होगी वे लोगों के पास बार-बार जाएं, जिससे लोग उनको वोटिंग वाले दिन तक भुला न पाएं। उस दिन भी उनको घरों से निकालना होगा, तभी राष्ट्रहित में मतदान फीसद बढ़ेगा।

जेपी नड्डा ने कहा कि प्रदेश में दोबारा भाजपा की सरकार बनेगी। सूबे में सत्ता की राह ब्रज से ही निकलेगी। पिछली बार ब्रज में मिली एतिहासिक सफलता को हमें दोबारा दोहराना है। इसके लिए एक-एक कार्यकर्ता अभी से जुट जाए। रूठों को मनाएं, उनके घर जाएं। हर बूथ पर वरिष्ठ नेता रात्रि प्रवास करें।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि नॉन परफार्मेंस वाले विधायक अपनी परफार्मेंस सुधार लें। 2022 के चुनाव में नए चेहरों को मौका मिलेगा। टिकट किसी को भी मिले सभी पार्टी के लिए काम करें। उनमें किसी तरह का मतभेद नहीं होना चाहिए।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि संगठन पदाधिकारी और कार्यकर्ता हमारे के लिए सबसे ऊपर है। उनके मान-सम्मान का पूरा खयाल रखा जाए। उन्होंने पदाधिकारियों से कहा, ब्रज प्रदेश की राजनीति में सबसे अहम है। कार्य योजना के तहत सभी से मिलना-जुलना शुरू कर दें। (आईएएनएस)

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि सबको टिकट मांगने का अधिकार है, लेकिन एक को ही दिया जा सकता है। ये बड़ा मुश्किल निर्णय होता है। इसलिए मन खराब नहीं करें और अपने कमल के लिए जुट जाएं। हमारी भूमिका ये है, कि हमें अपने बूथ और पन्ना प्रमुख को मजबूत बनाना है। हम राष्ट्रवाद के लिए कार्य कर रहे हैं और केंद्र से लेकर राज्य सरकार द्वारा हर वर्ग के लिए किए गए कार्यों को लोगों तक पहुंचाना है। इसके लिए संगठन ने संरचना तय की है और मुख्य संगठन से लेकर मोर्चा, प्रकोष्ठ को जिम्मेदारी सौंपी है। जिस बूथ पर जाना है, वहां की लाभार्थी सूची को साथ लेकर जाना है, उनके घरों तक पहुंच बनानी है और लोगों को सुनना है, तब अपनी बात कहनी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement