More than a hundred people will not be able to protest at the old pond of Raipur-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 26, 2022 12:55 pm
Location
Advertisement

रायपुर के बूढ़ा तालाब पर सौ से ज्यादा लोग नहीं दे सकेंगे धरना

khaskhabar.com : सोमवार, 09 मई 2022 12:40 PM (IST)
रायपुर के बूढ़ा तालाब पर सौ से ज्यादा लोग नहीं दे सकेंगे धरना
रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में बूढा तालाब क्षेत्र में धरना स्थल बनाया गया है, मगर इन धरनों से आमजन और व्यापारियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लिहाजा प्रशासन ने फैसला लिया है कि यहां अब सौ से ज्यादा लोग धरना नहीं दे सकेंगे। जिला कलेक्टर सौरभ कुमार ने बताया है कि जन भावनाओं और सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए शहर के बूढा तालाब के सामने के धरना स्थल को नवा रायपुर के राज्योत्सव मैदान के सामने स्थान्तरित किया जा रहा है। इस बारे में जिला प्रशासन ने आदेश भी जारी कर दिया है। अब बूढा तालाब के सामने वाले स्थल पर केवल एक सौ लोग ही शांतिपूर्ण आंदोलन कर सकेंगे। एक सौ से ज्यादा की संख्या में प्रदर्शनकारियों को आंदोलन के लिये राज्योत्सव मैदान निर्धारित होगा।

कलेक्टर ने बताया कि बूढा तालाब के सामने के स्थल पर बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों के जमावड़े से आमजनों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही थी। आने जाने की असुविधा, बार बार जाम की स्थिति के साथ आस पास की दुकानें भी बंद करनी पड़ रही थी, जिससे लोगो को जरूरत की चीजों के लिए भी भटकना पड़ रहा था। इसके साथ ही निकट ही संचालित दानी गर्लस स्कूल और सप्रे शाला के विद्यार्थियों को भी स्कूल आने जाने में परेशानी हो रही थी जिससे उनकी पढ़ाई प्रभावित हो रही थी।

कुमार ने बताया कि लोगों की सुविधा के लिए स्थानीय पार्षद, जनप्रतिनिधियों और अन्य संगठनों की मांग पर धरना स्थल को नवा रायपुर राज्योत्सव मैदान के सामने स्थानांतरित किया गया है। साथ ही पुराने धरना स्थल पर प्रदर्शनकारियों की संख्या अधिकतम एक सौ निर्धारित की गई है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement