Mandaviya told the doctors - work towards the vision of the Prime Minister to transform the health system-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 28, 2021 8:25 pm
Location
Advertisement

डॉक्टरों से बोले मंडाविया- स्वास्थ्य व्यवस्था को बदलने के लिए प्रधानमंत्री के विजन की दिशा में काम करें

khaskhabar.com : गुरुवार, 16 सितम्बर 2021 6:53 PM (IST)
डॉक्टरों से बोले मंडाविया- स्वास्थ्य व्यवस्था को बदलने के लिए प्रधानमंत्री के विजन की दिशा में काम करें
नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को डॉक्टरों से नए भारत के लिए स्वास्थ्य प्रणाली को समग्र रूप से बदलने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ²ष्टिकोण के तहत काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि डॉक्टर स्वास्थ्य सेवा के महत्वपूर्ण स्तंभ हैं और केंद्र सरकार के अस्पतालों की नींव रखते हैं।

मंडाविया ने कहा, अस्पताल और डॉक्टर एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। यह एक दूसरे के बिना काम नहीं कर सकते। डॉक्टरों को उनके समर्पण और अपने काम पर ध्यान देने के कारण इसका एहसास नहीं हो सकता है। वे समाज में बहुत सम्मान रखते हैं।

मंडाविया दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में बोल रहे थे, जहां उन्होंने नए ऑक्सीजन पीएसए प्लांट, अस्थायी कोविड अस्पताल, बाल शोषण देखभाल और अन्य रोगी-केंद्रित सुविधाओं जैसी कई स्वास्थ्य सुविधाओं का उद्घाटन किया। कोरोना की तीसरी लहर की संभावित आशंका से पहले 1 मीट्रिक टन क्षमता का तीसरा पीएम-केयर्स प्रेशर स्विंग सोखना ऑक्सीजन प्लांट और अस्पताल परिसर में नई अस्थायी अस्पताल सुविधाएं शुरू हुई हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, हमें कोरोना से बचाने में डॉक्टरों की प्रतिबद्धता ने इस सम्मान को काफी बढ़ा दिया है।

मंडाविया ने इस अवसर पर एक पुस्तिका 'क्वालिटी की बात' का भी विमोचन किया।

उन्होंने अस्पताल को इसके प्रवेश स्तर और स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए राष्ट्रीय प्रत्यायन बोर्ड (एनएबीएच) मान्यता प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत किया।

मंत्री ने कहा कि अस्पताल में आने वाले मरीजों और उनके रिश्तेदारों के बोझ को कम करने में सुधार की गुंजाइश है। उन्होंने इसे प्रधानमंत्री मोदी के न्यू इंडिया के ²ष्टिकोण को पूरा करने के लिए प्रणाली में सुधार के व्यापक बिंदु से जोड़ा।

अस्पताल समुदाय को पूरे देश के लिए एक आदर्श अस्पताल बनाने का आह्वान करते हुए, उन्होंने डॉक्टरों से लोगों के ²ष्टिकोण से ध्यान हटाने और पूरे अस्पताल के कामकाज को एक टीम के रूप में देखने का आग्रह किया ताकि कामकाज को निर्बाध बनाया जा सके।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement