Man sends threat letter to Odisha CM Naveen Patnaik, demands extortion money of rs 50 crore-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Sep 23, 2018 7:06 am
Location
Advertisement

ओडिशा के सीएम को कैदी ने दी धमकी, 50 करोड़ की मांगी फिरौती

khaskhabar.com : मंगलवार, 04 सितम्बर 2018 7:55 PM (IST)
ओडिशा के सीएम को कैदी ने दी धमकी, 50 करोड़ की मांगी फिरौती
बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में बिलासपुर जिले की सेंट्रल जेल में डकैती और हत्या जैसे मामलों में सजा काट रहे एक कैदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को धमकी भरा पत्र भेजकर 50 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी है। यह धमकी भरा पत्र जब ओडिशा के भुवनेश्वर स्थित मुख्यमंत्री कार्यालय पहुंचा तो हडक़ंप मच गया। ओडिशा पुलिस से बिलासपुर पुलिस को जानकारी मिलने के बाद पुलिस के अधिकारी जांच के लिए जेल पहुंचे। पूछताछ के बाद कैदी पुष्पेंद्र नाथ चौहान ने खुद को लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए पत्र लिखना स्वीकार कर लिया है।

बिलासपुर जिले के पुलिस अधीक्षक आरिफ एच शेख ने बताया कि ओडिशा के अतिरिक्त महानिदेशक (खुफिया) की तरफ से उन्हें इस बारे में पत्र मिला था। मामले को गंभीरता से लेते हुए जेल के अफसरों ने कैदी पुष्पेंद्रनाथ चौहान से पूछताछ की और उसकी आपराधिक कुंडली खंगाली। जांजगीर-चाम्पा निवासी पुष्पेन्द्र नाथ चौहान नामक कैदी बिलासपुर जेल में साल 2009 से डकैती और हत्या के गंभीर मामलों में सजा भुगत रहा है।

चौहान के खिलाफ हत्या, लूट, डकैती जैसे अपराधों के 42 अलग-अलग मामले अदालत में विचाराधीन हैं। वह एक मामले में 7 साल और दूसरे में 3 साल, यानी 10 साल की उम्रकैद की सजा काट रहा है। फिलहाल 40 मामले अदालत में लंबित हैं।

पूछताछ करने पर कैदी ने स्वीकार कर लिया है कि उसने ही ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को धमकी भरा पत्र लिखा था। कैदी ने बताया कि उसने लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए पत्र लिखा था और 50 करोड़ रुपये की मांग की थी।

पुलिस के मुताबिक, यह पहली बार नहीं है। पुष्पेंद्र पहले भी कई लोगों को पत्र लिखकर धमकी दे चुका है। इसके लिए उसे जेल मैन्युअल के तहत 5 से 6 बार सजा दी जा चुकी है। उसे जब-जब अदालत में पेशी के लिए लाया जाता है। वह पत्र साथ लाता है और उसे बाहर भिजवा देता है। पुलिस को शुरुआती पूछताछ में पुष्पेन्द्र मानसिक रूप से बीमार लग रहा है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement