Mallya can be extradited anytime, all legalities done-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jul 14, 2020 2:04 am
Location
Advertisement

माल्या को मुंबई लाया जाएगा, आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा

khaskhabar.com : गुरुवार, 04 जून 2020 08:39 AM (IST)
माल्या को मुंबई लाया जाएगा, आर्थर रोड जेल में रखा जाएगा
नई दिल्ली। भगोड़ा शराब कारोबारी विजय माल्या को प्रत्यर्पित कर कभी भी भारत लाया जा सकता है। उसके खिलाफ मुंबई में मामला दर्ज है, इसलिए उसे मुंबई ही लाया जाएगा। जांच एजेंसियों के सूत्रों ने बुधवार को आईएएनएस को यह जानकारी दी। भगोड़े कारोबारी के साथ केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी होंगे। उसका मुंबई एयरपोर्ट पर एक मेडिकल टीम स्वास्थ्य परीक्षण भी करेगी।

अगर माल्या रात में मुंबई में उतरता है, तो उसे शहर के सीबीआई कार्यालय में कुछ समय बिताना होगा। उसे बाद में दिन में अदालत में पेश किया जाएगा।

अगर माल्या दिन में भारत पहुंचेगा तो उसे एयरपोर्ट से सीधे कोर्ट ले जाया जाएगा। सूत्रों ने बताया कि कोर्ट में सीबीआई और ईडी, दोनों एजेंसियां उसकी रिमांड की मांग करेंगी।

उल्लेखनीय है कि ब्रिटेन की अदालत ने अगस्त 2018 में माल्या की याचिका पर सुनवाई करते हुए भारतीय जांच एजेंसियों से उस जेल का विस्तृत ब्योरा मांगा था, जहां प्रत्यर्पण के बाद माल्या को रखा जाएगा। तब एजेंसियों ने मुंबई स्थित ऑर्थर रोड जेल की एक सेल का वीडियो ब्रिटेन कोर्ट को सौंपा था, जहां माल्या को भारत लाए जाने के बाद रखने की योजना है। एजेंसियों ने तब ब्रिटेन कोर्ट को आश्वस्त किया था कि माल्या को दो मंजिला ऑर्थर रोड जेल परिसर के अंदर बेहद सुरक्षित बैरक में रखा जाएगा।

ऑर्थर रोड जेल में अंडरवल्र्ड से जुड़े कई कुख्यात अपराधियों जैसे अबु सलेम, छोटा राजन, मुस्तफा दोसा को रखा जा चुका है। मुंबई हमलों को अंजाम देने वाले पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल कसाब को भी बेहद कड़ी सुरक्षा में इसी जेल में रखा गया था। वहीं, शीन बोरा हत्या मामले के आरोपी पीटर मुखर्जी और पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) को 13,500 करोड़ रुपये का चूना लगाने वाला विपुल अंबानी भी इस जेल में रखा जा चुका है।

माल्या पर देश के 17 बैंकों का नौ हजार करोड़ रुपये बकाया है। वह दो मार्च, 2016 को भारत छोड़कर ब्रिटेन भाग गया था। भारतीय एजेंसियों ने ब्रिटेन की कोर्ट से माल्या के प्रत्यर्पण की अपील की और लंबी लड़ाई के बाद ब्रिटेन की अदालत ने 14 मई को माल्या के भारत प्रत्यर्पण की अपील पर मुहर लगा दी थी। (आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement