Maharishi Valmiki was not a communitys guide to the entire society - Nayab Saini-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 13, 2019 2:43 am
Location
Advertisement

महर्षि वाल्मीकि एक समुदाय के नहीं पूरे समाज के पथप्रदर्शक थे-नायब सैनी

khaskhabar.com : बुधवार, 24 अक्टूबर 2018 11:23 PM (IST)
महर्षि
वाल्मीकि एक समुदाय के नहीं पूरे समाज के पथप्रदर्शक थे-नायब सैनी
जींद। हरियाणा के श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री नायब सैनी ने कहा कि महर्षि वाल्मीकि किसी एक जाति या समुदाय के नहीं बल्कि वे पूरे समाज के पथप्रदर्शक थे। हर व्यक्ति को उनके दिखाए सदमार्ग पर चलकर राष्ट्र निर्माण में योगदान देना चाहिए। वर्तमान सरकार उनके दिखाए सदमार्ग पर चलकर देश एवं प्रदेश को आगे बढ़ाने का काम कर रही है। नायब सैनी ने यह विचार जींद में महर्षि वाल्मीकि की जयंती समारोह को बतौर मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि आज से हजारों साल पहले महर्षि वाल्मीकि ने गरीब लोगों को समाज की मुख्य धारा में शामिल करने का न केवल सपना देखा था बल्कि उसे पूरा करने के लिए जीवन पर्यन्त प्रयास भी किए। उनके इस सपने को साकार करने के लिए वर्तमान राज्य सरकार दिन-रात एक किए हुए है। उन्होंने कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए अनेक ऐसी योजनाएं लागू की गई है, जिनके परिणाम स्वरूप लाखों गरीब लोग समाज की मुख्य धारा में शामिल हुए है। केवल मात्र श्रम एवं रोजगार विभाग द्वारा पिछले चार वर्षो में श्रमिकों के खातों में विभिन्न योजनाआें के तहत 600 करोड़ रूपए की राशि जमा करवाई जा चुकी है। वर्तमान सरकार से पहले की सरकारों के दस वर्ष के कार्यकाल में मात्र 28 करोड़ रूपए की राशि श्रमिकों के खातों में जमा करवाई गई थी। उन्होंने कहा कि श्रमिकों के कल्याण के लिए वर्तमान सरकार ने कई अहम फैसले लागू किए है। श्रमिक की बेटी की शादी में 51 हजार रूपए की राशि कन्यादान के रूप में दी जा रही है। यहीं नहीं शादी के प्रबंधन कार्यो के लिए 50 हजार रूपए की अतिरिक्त राशि भी दी जा रही है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement