Lalus Wife Rabri Devi, Son Tejashwi Yadav Granted Bail in IRCTC Scam Case-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 13, 2018 2:31 am
Location
Advertisement

आईआरसीटीसी घोटाला : तेजस्वी और राबड़ी देवी को मिली कोर्ट से जमानत

khaskhabar.com : शुक्रवार, 31 अगस्त 2018 11:44 AM (IST)
आईआरसीटीसी घोटाला : तेजस्वी और राबड़ी देवी को मिली कोर्ट से जमानत
पटना। बिहार का सबसे चर्चित राजनीतिक परिवार लगातार कानून उलझनों में फंसता नजर आ रहा है, लेकिन आईआरसीटीसी घोटाले मामले में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को कुछ राहत मिली है। पटियाला हाउस कोर्ट की सीबीआई विशेष अदालत ने तेजस्वी और राबड़ी देवी को जमानत दे दी है। वहीं जेडीयू अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने भी गुरुवार को रांची की सीबीआई अदालत के समक्ष समर्पण किया था।

लालू चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे हैं और उन्हें इलाज के लिए कोर्ट ने पेरोल दी थी जो 30 अगस्त को खत्म हो गई थी। आज शुक्रवार को राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव की पटियाला हाउस कोर्ट में पेशी होने वाली है। इसके लिए दोनों दिल्ली पहुंच भी चुके हैं। बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटा तेजस्वी यादव दो अलग-अलग केसों में पेशी के लिए पटना से रवाना हुए थे।

इससे पहले गुरुवार को लालू यादव ने सीबीआई अदालत के सामने समर्पण कर दिया जहां से वापस बिरसा मुंडा जेल भेज दिया गया है। हाईकोर्ट ने लालू यादव की जमानत बढ़ाने से मना कर दिया था। आईआरसीटीसी मामले में अदालत ने लालू प्रसाद उनकी पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी यादव समेत अन्य आरोपियों को 31 अगस्त को अदालत में पेश होने के लिए समन भेजा था। 31 अगस्त को पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव अदालत के सामने आएंगे। दिल्ली के लिए रवाना होने के पहले राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव ने पत्रकारों से कोई खास बात नहीं की थी।

तेजस्वी यादव ने सिर्फ इतना कहा था, ‘न्यायिक प्रक्रिया है, पूरा तो करना ही होगा।’ बता दे, यह मामला 2006 में रांची और पुरी में दो आईआरसीटीसी होटलों के अनुबंधों के आवंटन में कथित अनियमितताओं से संबंधित है, जिसमें आरोप यह है कि रेल मंत्री रहने के दौरान लालू यादव ने एक निजी कंपनी की ओर से पटना में एक महत्वपूर्ण जगह पर तीन एकड़ का व्यावसायिक प्लॉट रिश्वत में लिया था। रांची में सीबीआई अदालत के सामने 30 अगस्त को समर्पण की वजह से लालू दिल्ली नहीं जा सके। तेजस्वी और राबड़ी के दिल्ली रवाना होने से कुछ ही देर बाद लालू रांची के लिए रवाना हुए थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement