Katha Belle Festival at JKK-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Dec 13, 2019 1:01 pm
Location
Advertisement

जेकेके के कथा बेले फेस्टिवल में फिर से जीवंत हुई भक्त शिरोमणि मीरा

khaskhabar.com : सोमवार, 02 दिसम्बर 2019 7:35 PM (IST)
जेकेके के कथा बेले फेस्टिवल में फिर से जीवंत हुई भक्त शिरोमणि  मीरा
जयपुर । कला एवं सांस्कृतिक केंद्र, जवाहर कला केंद्र (जेकेके) द्वारा आयोजित ‘कथा बेले‘ फेस्टिवल के दूसरे दिन कलाप्रेमियों के समक्ष भक्त शिरोमणि ‘मीरा‘ फिर से जीवंत हो उठी। दिल्ली के पंडित हरीश गंगानी की कोरियोग्राफी एवं निर्देशन में आयोजित इस रंगारंग प्रस्तुति में भजनों, गीतों और जयपुर कथक घराने की नृत्य तकनीक परण, कवित्त एवं चक्कर का उपयोग सबसे विशेष रहा।
प्रस्तुति में मीरा बाई द्वारा भगवान कृष्ण की प्रतिमा देख मोहित होने, मीरा बाई की शादी, शादी के बाद मीरा बाई के महल से बाहर निकल कृष्ण मन्दिर जाने और संत रैदास द्वारा भक्त शिरोमणि मीरा को एक तारा भेंट करने का अत्यंत रोचक तरीके से चित्रण किया गया। इसके अतिरिक्त मीरा बाई को मारने के लिए किए गए षडयंत्रों, विषपान, वृंदावन में गोस्वामी से मिलने और द्वारका में कृष्ण प्रतिमा में विलीन होने को अत्यंत मनमोहक तरीके से मंचित किया गया।

कार्यक्रम के दौरान ‘‘माई मैं तो सपना में परणया दीनानाथ‘‘, ‘‘थानै काईं-काईं कह समझावां म्हारा सांवरा गिरधारी‘‘, ‘‘मैं गोविंद के गुण गांवा‘‘, ‘‘सावरे के रंग मीरा राची‘‘, ‘‘होली खेलत हैं गिरधारी‘‘, ‘‘क्या-क्या नहीं सुना अब तो दर्शन दो‘‘, आदि गीतों एवं भजनों की प्रस्तुति बेहद सुंदर रही।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

1/3
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement