Kamalnath Government collected Rs. 281 crores and sent it to Delhi: Shah-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 19, 2019 6:09 am
Location
Advertisement

कमलनाथ सरकार ने 281 करोड़ रुपये इकट्ठा कर दिल्ली भेज दिये : अमित शाह

khaskhabar.com : बुधवार, 08 मई 2019 9:26 PM (IST)
कमलनाथ सरकार ने 281 करोड़ रुपये इकट्ठा कर दिल्ली भेज दिये : अमित शाह
उज्जैन। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर बुधवार को हमला किया और कहा कि इन्हें किसानों का कर्ज माफ करना था, बेरोजगारों को भत्ता देना था मगर नहीं किया, और चार माह में 281 करोड़ रुपये इकट्ठा कर दिल्ली भेज दिए।

शाह ने यहां भाजपा उम्मीदवार के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, "कमलनाथ सरकार का तो वही हाल है जैसा कहा जाता है कि पूत के पांव तो पालने में दिखने लगते हैं। इस सरकार को चार माह सत्ता में आए हुए और उसने 281 करोड़ रुपये इकट्ठा कर दिल्ली भेज दिए। इस सरकार को किसानों का कर्ज माफ करना था, युवाओं को बेरोजगारी भत्ता देना था, मगर नहीं दिया। बिजली बिल आधा करने की बात की थी, मगर ज्यों का त्यों है। बिजली (आपूर्ति) जरूर हाफ कर दी।"

राज्य सरकार की नीतियों और पिछले दिनों आयकर विभाग के छापों का जिक्र करते हुए शाह ने कहा, "इस सरकार ने चार माह में 281 करोड़ रुपये इकट्ठा कर भेजे हैं, इस सरकार को 60 माह सत्ता में रहना है। क्या करेंगे ये लोग, इसका भी हिसाब लगा लेना। दूसरी ओर मोदी सरकार की किसान सम्मान निधि का पैसा किसानों को इसलिए नहीं मिल पा रहा है, क्योंकि उसकी सूची भेजने की फुर्सत इस सरकार को नहीं है।"

भाजपा अध्यक्ष ने पाकिस्तान को लेकर अपनाए जा रहे सरकार के रवैये का जिक्र करते हुए कहा, "पाकिस्तान की ओर से गोली आएगी तो यहां से जवाब में गोला जाएगा। ईंट का जवाब पत्थर से दिया जाएगा। राष्ट्रीय सुरक्षा हमारे लिए चुनावी मुद्दा नहीं है। चुनाव तो आएंगे-जाएंगे, जीतेंगे-हारेंगे। मां भारती की सुरक्षा हमारे लिए सर्वोच्च प्राथमिकता है।"

कश्मीर को लेकर कांग्रेस के साथी दल नेशनल कांफ्रेंस के बयान का जिक्र करते हुए शाह ने कहा, "राहुल गांधी के साथी उमर अब्दुल्ला कहते हैं कि कश्मीर में दूसरा प्रधानमंत्री होना चाहिए। एक देश में दो प्रधानमंत्री की बात होती है। इस बात पर राहुल बाबा मौन साधे हुए हैं। मोदी जी की सरकार फिर से आने वाली है। अगर कभी भाजपा सरकार में नहीं भी होगी तब भी भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता जब तक तन में प्राण है, कश्मीर को भारत से अलग नहीं होने देगा।"

शाह ने लोगों से आह्वान किया, "उज्जैन से भाजपा उम्मीदवार अनिल फिरौजिया को जिता दो, नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बना दो, कश्मीर से धारा 370 को हटा दिया जाएगा।"

उज्जैन लोकसभा सीट के लिए सातवें और अंतिम चरण में 19 मई को मतदान होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement