Kabir came alive on net-theat -m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Jun 29, 2022 7:08 am
Location
Advertisement

नेट-थियेट पर जीवंत हुये कबीर

khaskhabar.com : रविवार, 25 जुलाई 2021 09:08 AM (IST)
नेट-थियेट पर जीवंत हुये कबीर
जयपुर। नेट-थियेट पर गुरू पुर्णिमा के अवसर पर संत कबीर के दोहे और भजनों से गुरूजनों को श्रद्धाभाव से सुमिरन किया। कार्यक्रम की श्रृंखला में आज राज्य के उभरते गायक गौरव भट्ट ने अपने कार्यक्रम की शुरूआत कबीर के चर्चित दोहों एवं भजन क्या लेकर आया रे बंदे, जगत में क्या लेकर जायेगा सुनाकर अपनी मखमली आवाज से कार्यक्रम की समां बांध दी।

नेट-थियेट के राजेन्द्र शर्मा राजू ने बताया कि गायक गौरव ने संत कबीर की सुप्रसिद्ध रचनाओं में मोको कहां ढूंढे रे बंदे, मै तो तेरे पास में, क्या लेकर आया जगत में क्या लेकर जायेगा, सुना कर दर्शको को बांधे रखा। गौरव के साथ कनिका चतुर्वेदी ने अपनी सुरीली आवाज में मत कर माया का अहंकार सुनाया और अंत में लोकप्रिय भजन चदरीया झीनी रे झीनी, ज्यो कि त्यों धर दीनी गा कर माहौल को कबीरमयी बना दिया।
कार्यक्रम में कीबोर्ड पर जिम्मी थॉमस ने अपनी उंगलियों का जादू ऐसा दिखाया कि दर्शक वाह-वाह करने लगे वहीं तबले पर महेन्द्र सिंह, बांसुरी पर हेमन्त शर्मा, गिटार पर कार्तिक भट्ट तथा कजोन पर जुगल ने सधी हुयी संगत कर कबीर की वाणी को जीवंत किया। मंच संचालन हेमंत थपलियाल ने किया।
संगीत विष्णु कुमार जांगिड, प्रकाश मनोज स्वामी, जितेन्द्र शर्मा, अंकित जांगिड व सेट मुकेश् कुमार सैनी, अर्जुन देव, सौरभ कुमावत, अजय शर्मा, जीवितेश् शर्मा, अंकित शर्मा नोनू, धृति शर्मा कृष्ण कुमार शर्मा और रोहित का रहा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement