Join-in voters list names of people angry protest cuts-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Aug 17, 2022 9:51 am
Location
Advertisement

वोटर लिस्ट में नाम नहीं जुड़ने-कटने से नाराज लोगों का धरना

khaskhabar.com : बुधवार, 25 जनवरी 2017 7:49 PM (IST)
वोटर लिस्ट में नाम नहीं जुड़ने-कटने से नाराज लोगों का धरना
फ़रीदकोट। नये वोटरों की वोट न बनाये जाने पर और कई पुराने वोटरों की बिना वजह वोट काटने के रोष में इन लोगों ने डिप्टी कमिश्नर के कार्यलय के बाहर धरना दिया।उन्हों ने दोष लगाये के जानबूझ कर साज़िश तहत उनके वोट काटे गए और कई नए वोटरों के कागज़ात लेने के बाद भी उनके वोट नही बनाये गए। भले ही प्रशासन अपनी गलती मान रहा है के कही न कही मुलाज़िमो की लापरवाही जे चलते ये सब हुआ पर इस तरह हज़ारो वोटर अपने हक़ से वंचित रह जायेगे। धरना देने वालों का ये भी इलज़ाम है कि राजनीतिक दबाव के चलते जानबूझ कर उनके वोट नही बनने दिए और पहले से बनी वोट भी काट दिए गये।
नई वोट कैंसल होने के बाद धरने पर बैठी सिमरन जो की आप के उमीदवार गुरदत्त सिंह की बेटी है ने कहा के उसकी और उसके भाई अनमोल की वोट बनाने के लिए सारी कार्रवाई की गयी थी। फॉर्म भर कर जमा करवा दिये गए थे लेकिन उसकी और उसके भाई की वोट नही बनायी गयी। इसके लिए हम डीसी साहिब से भी मिले पर कोई सही जवाब नही मिला और हमारे जैसे कई और नोजवान है जिनकी वोट जानबूझ कर नही बनायीं गयी।आज जब हम दोबारा एडीसी से मिले तो हमे साफ़ साफ़ कह दिया गया के अब आपकी वोट नही बन सकेगी।यही नही हमारे साथ कई वोटर ऐसे भी हे जिनकी वोट काट दी गयी है और ये सब साज़िश तहत किया गया है।
इस वक्त आम आदमी पार्टी के उमीदवार गुरदित्त सिंह ने कहा के प्रशासन पर किसी का दबाव हे इस लिए जानबूझ कर वोट काटे जा रहे हैं और नए वोटरों के वोट नही बनाये जा रहे इस लिए ये उनके अधिकारों का क़त्ल किया जा रहा है क्योंकि वोटर अपने अधिकार का इस्तेमाल कर नई सरकार बनाने में समक्ष है।उन्होंने कहा के करीब 2500 ऐसे लोग हे जिनके वोट या तो बने नही और या फिर बने हुए वोट काट दिए गए।
इस मामले के बारे में एडीसी केशव हिंगोनिया ने कहा के किसी के दबाव के चलते ऐसा नही किया गया ये एक क्लेरिकल गलती है जिसकी जांच करवाई जाएगी और रिपोर्ट बना कर भेजी जयेगी ,जो भी इस में दोषी होगा इसके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

[@ अमृतसर में सजने लगा दंगल, औजला और छीना में होगा मुकाबला]

[@ अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement