It should be said by imposing a bill on farmers that it is in your good, but it is not acceptable to my conscience: Harsimrat-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Oct 31, 2020 4:10 am
Location
Advertisement

किसानों पर बिल थोपकर बोला जाए कि ये आपके भले में है, लेकिन ये मेरे जमीर को मंजूर नहीं : हरसिमरत

khaskhabar.com : शुक्रवार, 18 सितम्बर 2020 2:45 PM (IST)
किसानों पर बिल थोपकर बोला जाए कि ये आपके भले में है, लेकिन ये मेरे जमीर को मंजूर नहीं : हरसिमरत
चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कृषि विधेयकों को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा, किसानों के भले के लिए आप बिल लेकर आ रहे हैं जब उसको वो विरोधी समझ रहा है, तो आप ऐसा बिल न लेकर आएं। दुख जरूर हुआ कि संसद में बिल उसी अध्यादेश के तरीके में आया, बिना कोई संशोधन और किसानों के साथ बातचीत किए।


जो किसान कई दिनों से सड़कों, रेल की पटरियों पर बैठे हुए हैं कि हमारा भविष्य खत्म हो रहा है। कहीं ने कहीं उन पर बिल थोपकर बोला जाए कि ये आपके भले में है और उनकी सुनवाई तक न की जाए। ये मेरे ज़मीर को मंजूर नहीं है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement