International Geeta Festival -2018-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Mar 20, 2019 7:41 am
Location
Advertisement

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2018, क्या होगा खास, यहां पढ़ें

khaskhabar.com : मंगलवार, 04 दिसम्बर 2018 7:39 PM (IST)
अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2018, क्या होगा खास, यहां पढ़ें
चंडीगढ़ । हरियाणा में 7 से 23 दिसंबर, 2018 तक कुरुक्षेत्र में आयोजित किये जाने वाले अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव-2018 में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा के कलाकार और कारीगर अंतर्राष्ट्रीय शिल्प और सरस मेला में भाग लेंगे। इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव में मॉरीशस साझेदार देश और गुजरात साझेदार राज्य होगा। यह महोत्सव एक वार्षिक कार्यक्रम है जो कुरुक्षेत्र में कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड (केडीबी) के सहयोग से हर साल आयोजित किया जाता है।
एक सरकारी प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि गीता जयंती का कार्यक्रम वर्ष 1989 में शुरू हुआ था। धीरे-धीरे, गीता जयंती मोहत्सव का आयोजन राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाने लगा। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2016 से गीता महोत्सव को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मनाया जा रहा है।
उन्होंने बताया कि मुख्य कार्यक्रम 13 दिसंबर से 18 दिसंबर तक आयोजित किए जाएंगे। 13 से 15 दिसंबर अंतरराष्ट्रीय गीता सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। संत सम्मेलन का आयोजन 16 दिसंबर को किया जाएगा, जिसमें देश और विदेशों के प्रसिद्ध संत भाग लेंगे, श्रद्धालुओं द्वारा श्रीमद् भगवत गीता का वादन 17 दिसंबर को आयोजित होगा। 13 से 18 दिसंबर सांस्कृतिक कार्यक्रम, 13 से 18 दिसंबर ब्रह्मा सरोवर पर शाम को लाइट एंड साउंड शो, 18,000 छात्रों द्वारा अष्टदाश श्लोकी गीता का पाठ किया जाएगा। 18 दिसंबर को ग्लोबल गीता चिंतन और हर शाम 7 से 28 दिसंबर, 2018 तक ब्रह्मा सरोवर पर महा आरती का आयोजन किया जाएगा। भव्य महा आरती और दीपदान 18 दिसंबर, 2018 को होगा। यह सब महोत्सव में प्रमुख आकर्षणों का केंद्र रहेंगे।
भारतीय और विदेशी कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम 13 से 18 दिसंबर तक आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि यह महोत्सव अभिनेत्री ग्रेसी सिंह, सूफी गायक सतिंदर सरताज और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध गायक हेमंत बृजवाशी के प्रदर्शन का साक्षी होगा।
उन्होंने बताया कि दीवार चित्रकला प्रतियोगिता 8 से 9 दिसंबर को आयोजित की जाएगी, आध्यात्मिक, सांस्कृतिक, शैक्षिक, सामाजिक संगठनों, रंगोली, चित्रकार शिविर एवं फोटोग्राफी प्रतियोगिता, गीता बुक फेयर और हरियाणा के विकास और प्रगति से संबंधित प्रदर्शनी 13 से 18 दिसंबर तक आयोजित की जाएगी और गीता शालोक के वादन, गीता क्विज़, गीता भाषण और निबंध लेखन राज्य स्तर की प्रतियोगिताएं 13-15 दिसंबर को आयोजित की जाएंगी। इसके अलावा, हरियाणा की संस्कृति को प्रदर्शित करने के लिए हरियाणा पवेलियन तैयार किया जाएगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement