Inspector Inderjit Singh involved in many gangsters and intoxicants smugglers-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 19, 2021 6:03 am
Location
Advertisement

खलनायक निकला कई गैंगस्टरों व नशा तस्करों के काबू करने वाला इंस्पेक्टर इंद्रजीत

khaskhabar.com : सोमवार, 12 जून 2017 5:07 PM (IST)
खलनायक निकला कई गैंगस्टरों व नशा तस्करों के काबू करने वाला इंस्पेक्टर इंद्रजीत
फगवाड़ा।पंजाब एसटीएफ द्वारा आज जालंधर पुलिस लाईन से काबू किए सीआईए स्टाफ कपूरथला के पूर्व प्रभारी व फिरोजपुरा में बदले गए इंस्पेक्टर इंदरजीत सिंह को नशा तस्करों से कथित संबंधों के चलते काबू कर लिया गया। एसटीएफ ने जब जालंधर से उसके निवास से काबू किया तो अवैध असलहे का जखीरा देखकर अधिकारियों की आंखों खुली रह गई।

एसटीएफ ने फगवाड़ा में पुलिस कॉम्पलैक्स में स्थित सरकारी कर्वाटर में छापेमारी की तो वहां से टीम को तीन किलो स्मैक व 4 किलो हेरोईन बरामद की गई,जिसकी कीमत लाखों रुपए में बताई गई है। आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

सूत्रों ने बताया कि एसटीएफ को पुख्ता सूचना मिली थी कि इंद्रजीत सिंह के जालंधर आदर्श नगर के एक नशा तस्कर के साथ गहरे संबंध थे। जिसके आधार पर आरोपी के खिलाफ भदसं की धारा 59 (2)(6),218,466,471,120बी के तहत मामला दर्ज किया गया। एसटीएफ के एआईजी मुखविंदर सिंह ने बताया कि आज प्रात: 5 बजे पुलिस लाईन जालंधर में छापेमारी कर आरोपी इंद्रजीत सिंह को काबू किया गया। इसकी बदली कपूरथला से फिरोजपुर हो चुकी है।

एसटीएफ ने उसके घर की तलाशी दौरान अलग बोर के 383 रोंद,एक एमएम इटली मेड़ पिस्टल,एक .38 बोर रिवाल्वर,एक एके 47,साढ़े 10 लाख भारतीय करंसी,3550 इंगलैंड पाउंड,एक एनोवा कार बरामद की गई। एसटीएफ टीम जब आरोपी के लेकर फगवाड़ा जहां वो पहले सीआईए में तैनात रह चुके है लेकर पहुंची तो सरकारी कर्वाटर में 3 किलो स्मैक व 4 किलो हेरोईन बरामद की गई। पुलिस ने पहले दर्ज मामले में असलहा एक्ट व एनडीपीएस एक्ट की बढ़ौतरी की गई है। आरोपी इंसपैक्टर से पुछताछ जारी है। पुलिस पता लगा रही है कि वो किस किस तस्कर के साथ मिल कर यां उसके लिए काम करता है। पुलिस सुत्रों का दावा है कि इंसपैक्टर ने इस धंधे में करोड़ो की जायदाद बनाई है जिसकी भी जांच कर रही है। इंसपैक्टर की गिरफ्तारी के बाद पंजाब के कई शहरो में इसके खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले सामने आने की अपुष्ट जानकारी पुलिस हवाले से आ रही है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
Advertisement