Increase in the prices of petrol and diesel will bring international factors,to bring under gst-dharmendra pradhan-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 14, 2018 3:33 pm
Location
Advertisement

पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी अंतरराष्ट्रीय कारकों से, GST में लाएंगे-प्रधान

khaskhabar.com : शनिवार, 08 सितम्बर 2018 08:56 AM (IST)
पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी अंतरराष्ट्रीय कारकों से, GST में लाएंगे-प्रधान
भुवनेश्वर। पेट्रोल-डीजल की आएदिन बढ़ती कीमतों के बीच केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि अब यह जरूरी हो गया है कि पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के तहत लाया जाए। उन्होंने कहा कि देश में ईंधन कीमतों में बढ़ोतरी अंतरराष्ट्रीय कारकों से हो रही है।

प्रधान ने यहां एक कार्यक्रम में मीडिया से बातचीत में शुक्रवार को कहा कि ईंधन कीमतों में जो असामान्य वृद्धि हो रही है वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राजनीतिक और आर्थिक स्थिति की वजह से है। केंद्र इसको लेकर सतर्क है। प्रधान ने कहा, 'अब यह जरूरी हो गया है कि पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के तहत लाया जाए। दोनों अभी जीएसटी में नहीं हैं जिससे देश को करीब 15,000 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है। यदि पेट्रोल, डीजल को जीएसटी के तहत लाया जाता है तो यह उपभोक्ताओं सहित सभी के हित में होगा।'

केंद्र द्वारा ईंधन कीमतों में कटौती के प्रयासों के बारे में पूछे जाने पर प्रधान ने कहा कि कोई सिर्फ उत्पाद शुल्क घटाकर इस मुद्दे का प्रभावी तरीके से हल नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि ईरान, वेनेजुएला और तुर्की जैसे देशों में राजनीतिक स्थिति की वजह से कच्चे तेल का उत्पादन प्रभावित हुआ है। पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन ओपेक भी कच्चे तेल का उत्पादन नहीं बढ़ा पाया है, जबकि उसने इसका वादा किया था।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
Advertisement