In order to save the son dead body Eight days after the grave was Out-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
Nov 12, 2019 1:18 am
Location
Advertisement

बेटे के शव को जीवित करने की आस में कब्र से आठ दिन बाद निकलवाया

khaskhabar.com : शुक्रवार, 14 सितम्बर 2018 7:16 PM (IST)
बेटे के शव को जीवित करने की आस में कब्र से आठ दिन बाद निकलवाया
बस्ती। वर्तमान में अंधविश्वास एक व्यक्ति पर इतना बढ गया कि वह अपने मृत बेटे के शव को दफनाने के आठ दिन बाद कब्र से जिंदा होने की आस में वापस निकलवा लिया ।अंधविश्वास को बढ़ावा देने वाली इस घटना के दौरान बडी संख्या में भीड़ जमा हो गई और पुलिस भी इसमें भागीदारी निभाई। मिली जानकारी के अनुसार, कुसमौर गांव के रामगरीब के आठ साल के बेटे भीम को करीब एक हफ्ते पहले जहरीले सांप ने काट लिया था। इससे भीम की मृत्यु हो गई। बच्चे की मौत होने के बाद उसके पिता ने गांववालों के साथ मिलकर उसे कुआनो नदी के पास दफना दिया गया। बेटे की मौत से रामगरीब बहुत व्यथित और दुखी।

इसी बीच रामगरीब कचहरी गया, उससे मिलने वाले एक व्यक्ति ने रामगरीब को बताया कि संतकबीरनगर में एक तांत्रिक है, जो उसके मरे बेटे को वापिस जिंदा कर सकता है। रामगरीब उस तांत्रिक से मिलने गया । उस तांत्रिक ने रामगरीब को भरोसा दिलाया कि वह अपने बेटे की लाश को कब्र से बाहर निकाले और सिर का बाल खींचने पर अगर नहीं उखड़ता तो वह उसे जिंदा कर देगा। इसके बाद रामगरीब ने अपने पुत्र का शव बाहर निकलवाया और देखा गया कि उसके सिर के बाल खींचने पर उखडे क्या । इसके बाद पाया कि शव के बाल उखड गए। इसके बाद शव को वापिस जमीन में दफन कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि हमारे पास किसने शिकायत नहीं की है।



ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement