In Haryana, the groom printed 1500 wedding cards demanding the guarantee of the MSP law.-m.khaskhabar.com
×
khaskhabar
May 20, 2022 9:00 am
Location
Advertisement

हरियाणा में दूल्हा ने एमएसपी कानून की गारंटी की मांग करते हुए 1500 शादी के कार्ड छपवाए

khaskhabar.com : शनिवार, 22 जनवरी 2022 12:53 PM (IST)
हरियाणा में दूल्हा ने एमएसपी कानून की गारंटी की मांग करते हुए 1500 शादी के कार्ड छपवाए
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी की विभिन्न सीमाओं पर तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन समाप्त होने के एक महीने से अधिक समय के बाद, हरियाणा के एक व्यक्ति ने केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध का एक अनूठा तरीका चुना है। उसकी शादी के लिए छपवाए गए 1500 विवाह कार्ड, फसल उपज पर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की गारंटी देने वाले कानून की मांग करते हैं। हरियाणा के भिवानी जिले के रहने वाले प्रदीप कालीरामना की 14 फरवरी को शादी है। उन्होंने 1500 शादी के कार्ड छपवाए हैं जिसमें लिखा है, 'जंग अभी जारी है, एमएसपी की बारी है।' इसके अलावा, विवाह कार्ड पर 'ट्रैक्टर' और 'नो फार्मर्स, नो फूड' को दर्शाने वाला एक साइनबोर्ड भी प्रदर्शित किया गया है।

प्रदीप ने आईएएनएस से कहा, "मैं अपनी शादी के कार्ड के माध्यम से यह संदेश देना चाहता हूं कि किसानों के विरोध की जीत अभी पूरी नहीं हुई है। किसानों की जीत तभी घोषित की जाएगी जब केंद्र सरकार गारंटी देने वाले एमएसपी अधिनियम के तहत एक कानून किसानों को लिखित में देगी। एमएसपी पर कानून के बिना, किसानों के पास कुछ भी नहीं है और किसानों की शहादत और उनके बलिदान भी तभी पूरे होंगे जब एमएसपी पर कानूनी गारंटी होगी।"

उन्होंने कहा, "किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान, मैं दिल्ली की सीमाओं पर गया और विभिन्न विरोध स्थलों पर बैठे अन्य सभी किसानों को भी अपना समर्थन दिया। यही कारण है कि मैंने एमएसपी पर कानूनी गारंटी की मांग करते हुए 1500 शादी के कार्ड छपवाए।"

तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध लगभग 13 महीने तक चला जिसके बाद केंद्र सरकार ने उन कानूनों को वापस ले लिया और सरकार किसानों द्वारा उठाई गई कई अन्य मांगों पर सहमत हुई।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Advertisement
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
Advertisement
Advertisement